DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

50 हजार के नकली नोटों समेत दो धरे

एटीएस (एंटी टेरेरिस्ट सेल) व जिला पुलिस की संयुक्त टीम ने नकली नोट की तस्करी करने वाले दो व्यक्तियों को जमानियां (गाजीपुर) से धर दबोचा। पकड़े गए दोनों आरोपितों के पास से 50 हजार दो सौ रुपये के नकली नोट बरामद हुए हैं। बताया गया है कि पांच सौ के ये सभी नोट नेपाल से भारत लाए गए थे। पकड़े गए दोनों लोगों का संबंध दाऊद गिरोह से होने की आशंका जताई गई है। एटीएस के डिप्टी एसपी ललित सिंह ने आशंका जताई कि नकली नोटों के तस्करों के संबंध नेपाल व पाकिस्तान से जुड़े हो सकते हैं।

एटीएस को सूचना मिली थी कि लंका थाना क्षेत्र में नकली नोट के कारोबारी सक्रिय हैं। एटीएस ने लंका पुलिस से संपर्क कर मामले की छानबीन शुरू की। जांच में पता चला कि नकली नोट की तस्करी करने वालों का संबंध गाजीपुर से है। एटीएस ने एक सप्ताह तक गाजीपुर में कई स्थानों पर गोपनीय जांच की। रविवार को टीम ने जमानियां निवासी जियाउद्दीन खां एवं सत्यनारायण को हिरासत में ले लिया। कड़ाई से पूछताछ में दोनों ने कबूल किया कि दोनों काफी दिनों से नकली नोटों की तस्करी से जुड़े हैं।

नोट नेपाल से वाया बिहार व गोरखपुर के रास्ते गाजीपुर उनके पास पहुंचते हैं। नोट उपलब्ध कराने का कार्य जमानिया निवासी नन्दू राजभर करता है। एटीएस ने छापेमारी कर दोनों के घर से 50 हजार दो सौ रुपये के नोट बरामद कर लिये। पूछताछ में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। फिलहाल एटीएस ने तस्करों के संबंध दाऊद व आईएसआई से होने की आशंका जताई है।

डिप्टी एसपी ललित सिंह के मुताबिक बरामद नोट बिल्कुल भारतीय करेंसी जैसे दिखते हैं। कहा कि पूर्वाचल में तस्करों के संबंधों की गोपनीय जांच शुरू कर दी गई है। उन्होंने जल्द ही बड़े मामले के पर्दाफाश के संकेत दिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:50 हजार के नकली नोटों समेत दो धरे