DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनावी सुरक्षा से पटाखा लाइसेंस देने प्रशासन की देरी

पटाखों की बिक्री के लिए स्थान निर्धारित होने के बावजूद अभी तक प्रशासन पटाखा विक्रेताओं को लाइसेंस जारी नहीं कर सका है। चुनावी सुरक्षा के लिहाज से प्रशासन इन्हें लाइसेंस देने से बच रहा है। 15 अक्टूबर से निर्धारित स्थानों पर स्टॉल लगाए जाने हैं। ऐसे में पटाखा विक्रे ताओं के अवैध स्टॉक से आगजनी व ब्लॉस्ट जैसी घटना होने की आशंका बनी हुई है।


पटाखा विक्री के लिए स्थान तय होने के बाद पटाखा लाइसेंस लेने वालों ने आवेदन करने शुरू कर दिए हैं। 12 अक्टूबर तक इनके आवेदन लिए जाने हैं। शनिवार को फरीदाबाद व बल्लभगढ़ में काफी संख्या में लोगों ने पटाखा लाइसेंस के लिए आवेदन किया। इस समय प्रशासनिक अधिकारी चुनावी डय़ूटी में व्यस्त है। सूत्रों का कहना है कि प्रशासन जोखिम नहीं लेना चाहता। इसके चलते जानबूझकर लाइसेंस देने में देरी कर रहा है। मतदान के बाद ही प्रशासन इन्हें लाइसेंस देगा। फरीदाबाद एसडीएम मुकुल कुमार का कहना है कि 15 अक्टूबर से पहले इन्हें लाइसेंस दे दिए जाएंगे। लाइसेंस के लिए आवेदन कर चुके पवन, श्याम व कन्हैया ने बताया कि लाइसेंस न मिलने के कारण वे पटाखों की व्यवस्था नहीं कर पा रहे हैं। जब तक उन्हें लाइसेंस मिलेगा, तब तक थोक विक्रेताओं के यहां पटाखे की वैरायटी कम हो जाएंगी। इससे उन्हें काफी नुकसान होने की आशंका बनी है।

15 से 17 अक्टूबर तक लगाई जाएंगी पटाखों की स्टॉल
शहर के निर्धारित स्थानों पर पटाखों की स्टॉल 15 से 17 अक्टूबर तक लगाई जानी है। 13 अक्टूबर का मतदान है। ऐसे में इन्हें पटाखे बेचने का लाइसेंस 14 अक्टूबर को ही मिल सकेगा। इससे इनके पास मात्र एक दिन का समय बाकी बचेगा। एक पटाखा विक्रेता का कहना है कि उन्हें चोरी-छिपे पटाखे घर या दुकान में छिपाने पड़ रहे हैं। चुनाव के चलते इन दिनों पुलिस सक्रिय है। इससे पटाखा विक्रेताओं का धंधा इस बार चौपट होने के कगार पर है।


पटाखा बेचने के निर्धारित स्थान
बल्लभगढ़ का दशहरा मैदान, सेक्टर-3, सेक्टर-8, फरीदाबाद एनआईटी का दशहरा ग्राउंड, डबुआ कालोनी, सारन व जवाहर कालोनी के लिए हितकारी पोट्रीज, ओल्ड फरीदाबाद के लिए टाउन पार्क व कराधान एवं आबकारी विभाग कार्यालय सेक्टर-12 के नजदीक खाली मैदान, सेक्टर-37 व सरायख्वाजा क्षेत्र में पटाखों की बिक्री के लिए गुड़गांव कैनाल, शमशान घाट नजदीक पल्ला पुल वाला खाली मैदान निर्धारित किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चुनावी सुरक्षा से पटाखा लाइसेंस देने प्रशासन की देरी