DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिमी के पोस्टर चिपकाने के मामले में विधायक को राहत

प्रतिबंधित संगठन सिमी के पोस्टर कथित तौर पर चिपकाने के मामले में देशद्रोह के आरोपों का सामना कर रहे एक स्थानीय राजद विधायक को तब राहत मिली जब एक टीवी पत्रकार ने दिल्ली की अदालत से कहा कि उनके चैनल के पास मामले के दृश्य नहीं हैं।

अभियोजन पक्ष के गवाह हिंदी समाचार चैनल के सहायक संपादक पंकज वोहरा ने मामले की सुनवाई के दौरान अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पिंकी से कहा कि उनके चैनल के लिये यह संभव नहीं है कि वह कथित आपत्तिजनक पोस्टरों की क्लिपिंग दिखाये जिन्हें आठ साल पहले ओखला के विभिन्न स्थानों पर चिपकाया गया था।

तब एमसीडी के पार्षद रहे और अब हाल ही में हुए उपचुनाव में ओखला विधानसभा सीट से राजद के टिकट पर चुने गये खान को 27 और 28 सितंबर 2001 की दरमियानी रात गिरफ्तार किया गया था।

उन पर भारतीय दंड संहिता और पश्चिम बंगाल संपत्ति विरूपण रोकथाम कानून के तहत देशद्रोह और बैर भाव भड़काने के आरोप लगे थे।

मोहम्मद शरीफ खान की शिकायत के आधार पर न्यू फ्रेंडस कॉलोनी पुलिस थाने में एक प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। खान एक बस के मालिक हैं जिसपर ये पोस्टर चिपकाये गये थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिमी के पोस्टर चिपकाने के मामले में विधायक को राहत