DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्पाल ने संगम में लगाई डुबकी, किला भी घूमे

प्रयाग प्रवास के दूसरे दिन राज्यपाल बीएल जोशी ने संगम स्नान किया। इसके बाद वह अकबर के बनाए ऐतिहासिक किला को देखने गए और फिर पत्नी के साथ बाँध के नीचे बड़े हनुमान मंदिर में दर्शन-पूजन किया। राज्यपाल ने सरकिट हाउस में जनप्रतिनिधियों और संभ्रांत नागरिकों के साथ मुलाकात की फिर आनंद भवन और स्वराज भवन देख लखनऊ लौट गए।

सरकिट हाउस में सांसद और विधायकों के साथ कई संगठनों के लोग राज्यपाल से मिले। बेहद सरल और सहज स्वभाव वाले राज्यपाल ने सबकी समस्या को न केवल गौर से सुना बल्कि उसे अपने साथ ले भी गए। इससे लोगों को भरोसा है कि महामहिम के स्तर से समस्याओं का समाधान होगा।

संगम स्नान के बाद राज्यपाल किला पहुँचे जहाँ ओडी फोर्ट के कमांडेंट कर्नल अनिल सिंह चंदेल ने उनका स्वागत किया। किले के अंदर स्थित ऐतिहासिक स्मारकों का अवलोकन के बाद राज्यपाल ने इसके उच्चस्तरीय रखरखाव के लिए सैन्य अफसरों की प्रशंसा की। उन्होंने अक्षयवट, अशोक स्तम्भ तथा सरस्वती कूप के दर्शन किए।

इसके बाद हनुमान मंदिर में पूजन कर राज्यपाल सरकिट हाउस आ गए। सरकिट हाउस में प्रयाग व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों ओंकारनाथ खन्ना, विजय अरोरा, सरदार अजीत सिंह, शिवशंकर सिंह, गुरु चरन अरोरा (चन्नी), अनिल केसरवानी, हरीश, राकेश जायसवाल ने राज्यपाल का स्वागत करते हुए व्यापारियों की समस्याओं की जानकारी दी।

चायल से सपा सांसद शैलेंद्र कुमार ने राज्यपाल से नरेगा में बरती जा रही प्रशासनिक और वित्तीय अनियमित्ता की शिकायत की। राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना तथा जेएनएनयूआरएम की प्रगति खराब होने की बात कही और कहा कि पुलिस सपा के वरिष्ठ नेताओं को फर्जी मुकदमें में फँसा कर उत्पीड़न कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राज्पाल ने संगम में लगाई डुबकी, किला भी घूमे