DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समग्र वार्ता प्रक्रिया जल्द शुरू करना चाहते हैं गिलानी

समग्र वार्ता प्रक्रिया जल्द शुरू करना चाहते हैं गिलानी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी ने शुक्रवार को कहा कि वह कश्मीर और नदी जल बंटवारे पर मतभेद सहित अन्य प्रमुख मसलों का समाधान निकालने के लिए भारत के साथ समग्र वार्ता प्रक्रिया को जल्द शुरू करना चाहते हैं।

पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) की राजधानी मुजफ्फराबाद की यात्रा के समापन पर गिलानी ने यह बयान दिया। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने भारत और अफगानिस्तान सहित सभी पड़ोसियों के साथ अच्छे संबंधों के प्रति पाकिस्तान की कटिबद्धता को दोहराया। एक प्रश्न के जवाब में गिलानी ने कहा कि केरी लुगर विधेयक अमेरिका के साथ द्विपक्षीय समझोता नहीं है इसलिए पाकिस्तान इसे स्वीकार करने को बाध्य नहीं है।

उन्होंने कहा कि अमेरिकी सहायता विधेयक पर अभी संसद में बहस होना है और सभी जनप्रतिनिधियों को इस पर उनके विचार व्यक्त करने का मौका मिलेगा। अमेरिका की यात्रा से लौटे विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी इस विधेयक पर संसद में बयान देंगे। गिलानी ने कहा कि केरी लुगर विधेयक पर विचार विमर्श के लिए जल्द ही राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और सेना प्रमुख की एक बैठक होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:समग्र वार्ता प्रक्रिया जल्द शुरू करना चाहते हैं गिलानी