DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेशावर में विस्फोट, 50 मरे व 120 घायल

पेशावर में विस्फोट, 50  मरे व 120 घायल

पश्चिमोत्तर पाकिस्तानी शहर पेशावर के एक भीड़भाड़ भरे बाजार में बीते छह महीने के बदतर आत्मघाती कार बम हमले में महिलाओं और बच्चों समेत कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई जबकि 120 अन्य घायल हो गए, वहीं हमले के बाद सरकार यह प्रण करने को मजबूर हो गई कि सेना आतंकवादियों के सफाये के लिए उनके पनाहगाह में प्रवेश करेगी।

हमलावर ने खैबर बाजार में 50 किलोग्राम तोप के गोलों और मशीन गन के कारतूसों से लदे अपने वाहन में दोपहर के समय तब विस्फोट कर दिया, जब उसके नजदीक से यात्रियों से भरी एक बस गुजर रही थी। विस्फोट से पश्चिमोत्तर सीमांत प्रांत के इस मशहूर बाजार में सभी तरफ खून फैल गया और जो बस हमले का शिकार हुई, वह धातु के एक बड़े टुकड़े में तब्दील हो गई।

बम निरोधक दस्ते के सहायक महानिरीक्षक जनरल शफाकत मलिक ने कहा कि जब विस्फोट हुआ, तब कार चल रही थी, जो इस बात का संकेत है कि उसमें आत्मघाती बम हमलावर मौजूद था। लेडी रीडिंग अस्पताल के उप चिकित्सा अधीक्षक साहिब गुल ने कहा कि 50 लोगों की मौत हुई है और 120 अन्य घायल हुए हैं। इनमें नौ बच्चों और एक महिला शामिल है। मृतक संख्या बढ़ सकती है क्योंकि घायलों में से 22 की हालत गंभीर है।

गृह मंत्री रहमान मलिक ने कहा कि फिदायीन हमलों और आतंकवादियों के बम विस्फोट करने से सरकार तालिबान के मजबूत गढ़ वजीरिस्तान में कड़ी कार्रवाई के आदेश देने के लिए मजबूर हो गई है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि हमारे पास दक्षिणी वजीरिस्तान और उत्तरी वजीरिस्तान में कार्रवाई करने के इतर कोई विकल्प नहीं है।

किसी भी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन तालिबान ने हाल ही में सार्वजनिक तौर पर कहा था कि वह आत्मघाती हमलों को अंजाम देकर अपने नेता बैतुल्ला महसूद की मौत का बदला लेगा।
 पाकिस्तान के पश्चिमोत्तर कस्बे जमरूद में एक मस्जिद के निकट हमला हुआ था जिसमें 50 लोगों की मौत हुई थी। आज का हमला उसके बाद की बदतर घटना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पेशावर में विस्फोट, 50 मरे व 120 घायल