DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीसीएस ने किया नक्सल विरोधी योजना को स्वीकार

सीसीएस ने किया नक्सल विरोधी योजना को स्वीकार

कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति (सीसीएस) ने माओवादियों द्वारा झारखण्ड में एक पुलिस इंस्पेक्टर का सिर कलम किए जाने की घटना को दृष्टिगत रखते हुए गुरुवार को माओवादियों से निपटने की योजना को मंजूरी दे दी। वहीं दूसरी ओर रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि वह माओवादियों से निपटने के लिए भारतीय वायु सेना के प्रस्ताव का अध्ययन कर रहा है।
   
उच्च पदस्थ सरकारी सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में सीसीएस की बैठक में वर्तमान हालात और इस समस्या से निपटने के उपायों पर चर्चा की गई। उसके बाद समिति ने इस योजना को मंजूरी दे दी। रक्षा मंत्री एके एंटोनी ने बताया कि भारतीय वायु सेना के आत्मरक्षा में माओवादियों पर खुले तौर पर वार करने के प्रस्ताव पर अभी भी अध्ययन किया जा रहा है।
   
एंटोनी ने कहा कि हालांकि मंत्रालय माओवादियों के विरुद्ध अभियान में हथियारबंद सेना की वर्तमान भूमिका में और बढ़ोतरी नहीं करना चाहती है। उन्होंने बताया कि करीब एक हफ्ते पहले दिया गया वायु सेना का प्रस्ताव मंत्रालय में अभी भी लंबित पड़ा हुआ है और उसे अभी तक सीसीएस के समक्ष पेश नहीं किया गया है। इससे पहले वायु सेना प्रमुख पीवी नायक ने कहा कि वायु सेना अपने विशेष कमाण्डों गरूड़ बल को नक्सल प्रभावित इलाकों में लगाई गई हेलीकॉटरों में भेजने पर विचार कर सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीसीएस ने किया नक्सल विरोधी योजना को स्वीकार