DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'वृद्धि दर सात फीसदी होने तक जारी रहें प्रोत्साहन पैकेज'

'वृद्धि दर सात फीसदी होने तक जारी रहें प्रोत्साहन पैकेज'

योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने सात प्रतिशत की आर्थिक वृद्धि दर हासिल होने तक प्रोत्साहन पैकेजों को जारी रखने की वकालत की है। वैश्विक आर्थिक संकट से उत्पन्न प्रभावों से मुकाबला करने के लिए सरकार द्वारा उद्योग जगत को शुल्क कटौती आदि के रूप में प्रोत्साहन पैकेज दिए गए थे।

अहलूवालिया ने यहां बताया कि अब हमें यह विचार करने की जरूरत है कि हमें कब अपने रुख में नरमी लानी शुरू करनी चाहिए। लेकिन मौजूदा समय में प्रोत्साहन पैकेज को जारी रखने के अलावा कोई चारा नहीं है।

उन्होंने कहा कि यह सोचना गलत होगा कि दुनिया मंदी से उबर चुकी है। वास्तविकता यह है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में गिरावट थम गई है। वैश्विक अर्थव्यवस्था उबरनी शुरू हो गई है, लेकिन यह अब भी काफी नीचे है।
   
चालू वित्त वर्ष के लिए उन्होंने कहा कि देश को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आर्थिक वृद्धि दर 6. 3 फीसदी से बेहतर हो। योजना आयोग ने चालू वित्त वर्ष के लिए 6.3 फीसदी आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान लगाया है।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'वृद्धि दर सात फीसदी होने तक जारी रहें प्रोत्साहन पैकेज'