DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आदित्यपुर-कांड्रा सड़क के साथ होगी

अलकतरा घोटाले की सुनवाई अलकतरा घोटाले की निगरानी जांच के लिए दायर जनहित याचिका की सुनवाई आदित्यपुर- कांड्रा सड़क के साथ होगी। 17 मार्च को जस्टिस एमवाइ इकबाल और जस्टिस डीके सिन्हा की कोर्ट ने दोनों मामलों को एक साथ सूचीबद्ध कर सुनवाई करने की बात कही।ड्ढr अलकतरा घोटाले की जांच के लिए मो ताहिर ने जनहित याचिका दायर की है। याचिका में कहा गया है कि वर्ष 2002-08 के बीच 100 करोड़ रुपये से भी अधिक की निकासी अलकतरा खरीद के लिए की गयी, लेकिन पथ निर्माण विभाग, वित्त विभाग की अधिकारियों की मिलीभगत से इस राशि की लूट की गयी। राज्य विभाजन के बाद इंजीनियर, नेता और ठेकेदारों की मिलीभगत से घोटाले को अंजाम दिया जा रहा है।ड्ढr वर्ष 2002 से राज्य के कई प्रमंडलों में अलकतरा खरीद का फराी आदेश जारी कर उसकी खपत भी दिखा दी गयी। इस तरह करोड़ों रुपये का घोटाला किया गया है। जहां अलकतरा का उपयोग किया गया, वह भी गुणवत्ता पूर्ण नहीं था। इतनी बड़ी राशि खर्च करने के बावजूद गोड्डा- पंजवारा, आसनबानी- पटमदा, रिंग रोड, आदित्यपुर- कांड्रा, रांची-डाल्टनगंज, हाता- चाईबासा- चंद्रपुरा- बोकारो और एनएच- 23 की हालत खराब है।पांच जिलों में निगरानी यूनिट खोलने का आग्रहए विजिलेंस यूनिट खोलने का आग्रह भी किया है। इसके लिए सरकार के पास प्रस्ताव भी भेजा गया है, लेकिन अभी तक इस पर निर्णय नहीं लिया गया है। ब्यूरो ने रांची, दुमका, हाारीबाग, कोल्हान (चाईबासा) और पलामू में विजिलेंस यूनिट खोलने का प्रस्ताव दिया है।ड्ढr अधिकारियों-कर्मचारियों का मामला भी लंबितड्ढr निगरानी ब्यूरो के पास न तो पर्याप्त अधिकारी हैं और न ही कर्मचारी। इस कारण विभाग का काम सही तरीके से नहीं हो पा रहा है। इन रिक्त पदों को भरने के लिए सरकार के पास कई बार प्रस्ताव भेजा गया है, लेकिन अभी तक यह मामला लंबित है। अभियोजन, एफआइआर की स्वीकृति मांगने का ब्योराड्ढr स्वास्थ्य विभाग में दवा घोटाला : डॉ योगेंद्र प्रसाद सिन्हा व अन्य, डॉ रामलखन राक व अन्य,डॉ एच राम, डॉ महेंद्र साहू व अन्य, डॉ शिव शंकर बिरुआ व अन्य, डॉ रमेश प्रसाद व अन्य,डॉ लल्लू चौधरी व अन्य, डॉ उर्मिला चौधरी व अन्य,डॉ प्रभु नंदन प्रसाद व अन्य।ड्ढr मध्याह्न भोजन में घोटाला : गोरखनाथ पांडेय, पृथ्वी पांडेय, सुरंद्र राम, राजेंद्र राम, श्याम बिहारी राम, चंद्रावती देवी, पुष्पा देवीड्ढr केंदु पत्ता संग्रहण में घोटाला : सुभान अहमद, रामप्रसाद सिंह, गणेश प्रसाद यादवड्ढr सरकारी राशि का गबन : शंभु दयाल सिंहड्ढr पद का दुरुपयोग करना : आलोक गोयल, आइएए

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आदित्यपुर-कांड्रा सड़क के साथ होगी