DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सली कुंदन पाहन ने की थी फ्रांसिस की हत्या

नक्सली कुंदन पाहन ने की थी फ्रांसिस की हत्या

झारखंड पुलिस के इंस्पेक्टर फ्रांसिस इंदुवार के हत्यारे की पहचान कर ली गई है। इंदुवार की हत्या नक्सली नेता कुंदन पहान ने की थी। उसी ने इंदुवार का सिर कलम किया।

वह एक बैंक डकैती मामले में भी आरोपी है। पाहन जद यू नेता आरएस मुंडा की हत्या का भी दोषी है। पाहन पर 5 लाख की ईनामी राशि भी घोषित है। उल्लेखनीय है कि फ्रांसिस की पिछले महीने 30 सितंबर को अगवा कर लिया गया था। अपने नेताओं की रिहाई की मांग पूरी न होने पर उन्होंने इंस्पेक्ट फ्रांसिस की हत्या कर दी थी।

एक अन्य खबर में पता चला है कि झारखंड खुफिया विभाग के पुलिस इंस्पेक्टर फ्रांसिस इंदुवार को पिछले पांच महीने से वेतन तक नहीं मिला था। गत मंगलवार को नक्सलियों ने उनकी हत्या कर दी थी।

वर्ष 1989 में वह उप-निरीक्षक के रूप में पुलिस बल में भर्ती हुए थे। इंदुवार को बोकारो जिले से निरीक्षक के रुप में पदोन्नति देकर विशेष शाखा में स्थानांतरण किया गया था।

शहीद फ्रांसिस इसी वर्ष अप्रैल में विशेष शाखा में सम्मिलत हुए थे और तब से उन्हें अपना वेतन नहीं मिला था। पुलिस विभाग के सूत्रों के मुताबिक बोकारो जिले से अंतिम वेतन प्रमाणपत्र (एलपीसी) नहीं मिलने से विशेष शाखा में उनको वेतन नहीं मिल रहा था। बोकारो से एलपीसी बुधवार को जारी किया गया था। इसी दिन शहीद फ्रांसिस का अंतिम संस्कार किया गया।

बोकारो के पुलिस अधीक्षक (एसपी) साकेत कुमार ने कहा, ‘‘हम पता लगाएंगे की इसमें देरी क्यों हुई।’’ एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, ‘‘वहां एलपीसी जारी करने में विलंब किया गया। इंदवार के मामले में यह असमान्य था। हम यह नहीं कह सकते कि इस मामले में किसी का इरादा गलत था। झारखण्ड में इसी तरह काम होता है।’’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सली कुंदन पाहन ने की थी फ्रांसिस की हत्या