DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चलती ट्रेन से जन्म लेते ही गिरा शिशु जीवित

चलती हुई ट्रेन के बाथरूम में जन्म लेते ही शौचालय के छेद से रेल पटरी पर गिरने के बाद भी एक नवजात शिशु सकुशल बच गया।

किसी को भी हैरत में डाल 'जाको राखे साइयां मार सके ना कोय' कहने पर मजबूर कर देने वाली यह घटना पड़ोसी जिले सरायकेला खरसांवा के कांड्रा स्टेशन के निकट हुई। उड़ीसा के सुंदरगढ़ निवासी भोला राय अपनी गर्भवती पत्नी रीतू के साथ टाटा-छपरा एक्सप्रेस से बिहार के पालनपुर जा रहे थे। इसी दौरान रात लगभग दस बजे रीतू बाथरूम गई जहां अचानक प्रसव पीड़ा के बाद उन्होंने एक बच्चे को जन्म दिया जो शौचालय के छिद्र से नीचे गिर गया।

महिला की चीख पुकार सुन कर यात्रियों ने आनन-फानन में जंजीर खींच कर ट्रेन रोकी और अंधेरे में जब ढूंढा तो बच्चा सकुशल पाया गया। मां और बच्चे को पड़ोसी पश्चिम बंगाल के पुरूलिया के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चलती ट्रेन से जन्म लेते ही गिरा शिशु जीवित