DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रुप-बी: एनएसडब्ल्यू, डायमंड ईगल्स, ससेक्स

ग्रुप-बी: एनएसडब्ल्यू, डायमंड ईगल्स, ससेक्स

न्यू साउथ वेल्स (ऑस्ट्रेलिया)-  शेफील्ड शील्ड्स, द फोर्ड रेंजर कप और केएफसी टी20 बिग बैश जैसे टूर्नामेंट खेलने वाली ऑस्ट्रेलिया के 8 अनुबंधित खिलाड़ियों से सजी टीम।

टीम- सायमन कैटिच (कप्तान), ब्रेट ली, डेविड वार्नर, नाथन होरिट्ज, स्टुअर्ट क्लार्क, डो बोलिंगर, फिलिप्स हग्स, बेन रोहरर, स्टीवन स्मिथ, आरोन बर्ड, मोसेस हेनरिक्स, सायमन केन, स्टीव ओ कीफ, डेनियल स्मिथ, डोमिनिक थ्रोनले
कोच- मैथ्यू मोट

मजबूती- सबसे बड़ी मजबूती इसकी ओर से खेलने वाले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट पा चुके आठ खिलाड़ी हैं, जो चैंपियंस लीग में दुनिया की नंबर वन वनडे टीम की ओर से खेलने के अनुभव का फायदा उठा सकते हैं। ली, कैटिच और वार्नर को आईपीएल में भी खेलने का अनुभव है। कैटिच 37 टी20 मैचों में 941 रनों के साथ टीम के टॉप स्कोरर हैं जबकि ब्रेट ली 26 मैचों में 26 विकेट लेकर टीम के शीर्ष गेंदबाज हैं। ली की मौजूदा फॉर्म भी टीम को मजबूती देगी।

कमजोरी- ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भले ही वनडे में अच्छे प्रदर्शन का माद्दा रखते हों, टी20 में ऑस्ट्रेलियाई टीम खुद को साबित नहीं कर पाई है। और यही बात ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों से सजी न्यू साउथ वेल्स पर भी लागू होगी। साथ ही ज्यादातर खिलाड़ियों का भारतीय पिचों पर न खेलने का अनुभव भी टीम की कमजोरी बन सकता है।

...........................................................................................................................................................................................

डायमंड ईगल्स (दक्षिण-अफ्रीका)- घरेलू क्रिकेट के पिछले चार सीजन में तीन खिताब जीत चुकी सबसे सफल अफ्रीकी टीम।

टीम- बोएटा डिप्पेनार (कप्तान), जेंड्रे कोएटजी, डिलन डू प्रीज, रीजा हेंड्रिक्स, एड्रियन मेक्लेरेन, विक्टर पिटसेंग, थांडी शबालाला, मोरन वेन वायक, रेयान बेले, कोर्नेलिअस डिवीलियर्स, डिन एलगर, एलेन क्रूगर, रेयान मेक्लेरेन, रीली रोसओ, शेडले वेन
कोच- सेरेल सीलियर्स

मजबूती- दक्षिण-अफ्रीका के सभी घरेलू टूर्नामेंट में अब तक की सबसे सफल टीम। ईगल्स अब तक पांच घरेलू टूर्नामेंट जीत चुके हैं। टीम के पास अनुभवी और युवा खिलाड़ियों का अच्छा तालमेल है। मेक्लेरेन 63, डिप्पेनार 50 और वेन वायक 49 मैचों के साथ टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी हैं। मेक्लेरेन का हरफनमौला खेल टीम को बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में मजबूती देता है।

कमजोरी- इस अफ्रीकी टीम के पास अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का अनुभव बेहद कम है। टीम के कप्तान डिप्पेनार ही अपनी राष्ट्रीय टीम की ओर से इंटरनेशनल क्रिकेट खेल चुके हैं। उनके अलावा टीम में ज्यादातर घरेलू खिलाड़ी ही हैं जिनका भारतीय पिचों पर प्रदर्शन कैसा रहेगा, इस बात का अंदाजा लगा बेहद मुश्किल है।

...........................................................................................................................................................................................


ससेक्स शार्क्स (इंग्लैंड)- टी20 काउंटी क्लब क्रिकेट में समरसेट को हराकर विजेता बनने वाली इंग्लैंड की टीम।

टीम- माइकल यार्डी (कप्तान), बेन ब्राउन, जोए गैटिंग, एंडी होड, चैड कीगन, रोबिन मार्टिन जेनकिंस, ड्वेन स्मिथ, यासिर अराफात, विल बीयर, पीयूष चावला, रोरे हैमिल्टन ब्राउन, एड जोएस, जेम्स कर्टली, क्रिस नैश, ल्यूक राइट
कोच- मार्क रोबिनसन

मजबूती- सेसेक्स के पास काउंटी क्लब टी20 लीग जीतने का अनुभव है। साथ ही ड्वेन स्मिथ, यासिर अराफात, पीयूष चावला जैसे विदेशी खिलाड़ी टीम को मजबूती देते हैं। ल्यूक राइट को भी इंटरनेशनल क्रिकेट का अनुभव हासिल है। अराफात 57 टी20 मैचों में 78 विकेट लेकर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज है। जबकि ड्वेन स्मिथ 44 मैचों में 140 की स्ट्राइक रेट से 855 रन बना चुके हैं। स्मिथ और पीयूष चावला को आईपीएल में खेलने का अनुभव हासिल है।

कमजोरी- इंग्लैंड की पिचों के उलट भारतीय पिचों के बर्ताव को भांपना मुश्किल होगा। टीम में खेल रहे विदेशी खिलाड़ियों को छोड़ दें तो ज्यादातर खिलाड़ियों को इंटरनेशनल क्रिकेट में कुछ खास अनुभव हासिल नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ग्रुप-बी: एनएसडब्ल्यू, डायमंड ईगल्स, ससेक्स