DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बुशरेंजर्स को काबू में करने उतरेंगे डेयरडेविल्स

बुशरेंजर्स को काबू में करने उतरेंगे डेयरडेविल्स

दिल्ली डेयरडेविल्स चैम्पियंस लीग में अपने अभियान की शुरूआत आस्ट्रेलिया की घरेलू ट्वेंटी20 टूर्नामेंट की उपविजेता टीम विक्टोरिया बुशरैंजर्स के खिलाफ करेगी।

दोनों ही टीमों में कई नामचीन शूरमा हैं ऐसे में जोरदार मुकाबले की उम्मीद की जा रही है। विक्टोरिया बुशरैंजर्स के तेज गेंदबाज डिर्क नेन्‍स दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम की ओर से खेलते हैं तो ऐसे में यह भी देखना रोचक होगा कि वे किस प्रकार अपनी घरेलू टीम के खिलाफ प्रदर्शन करते हैं। आस्ट्रेलिया के घरेलू ट्वेंटी20 बिग बैश टूर्नामेंट में नेन्‍स विक्टोरिया की ओर से सबसे सफल गेंदबाज रहे थे।

दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम में बल्लेबाजी की कमान टीम के नवनियुक्त कप्तान गौतम गंभीर, वीरेंद्र सहवाग की सलामी जोडी़ पर बहुत हद तक निर्भर करेगी। इसके बाद मध्यक्रम की जिम्मेदारी आईसीसी के ट्वेंटी20 क्रिकेटर आफ द ईयर तिलकरत्ने दिलशान, ईरानी ट्राफी में बढिया बल्लेबाजी करने वाले मनोज तिवारी, उपकप्तान दिनेश कार्तिक और इंग्लिश बल्लेबाज ओवैश शाह के हाथों में होगी।

हालांकि एबी डिविलियर्स, पॉल कोलिंगवुड और डेनियल विट्टोरी जैसे कई नामचीन खिलाडी़ चोट के कारण टूर्नामेंट में टीम की ओर से नहीं खेल पा रहें हैं लेकिन बावजूद इसके टीम के कप्तान गंभीर ने जीत का भरोसा जताया है।

विक्टोरिया टीम की बल्लेबाजी मुख्य रूप से कप्तान ब्रेड हाज, कैमरून व्हाइट, डेविड हसी और राबर्ट क्विनी पर निर्भर करेगी। ये चारों ही खिलाडी लंबे लंबे शॉट लगाने में माहिर माने जाते हैं। इन चारों खिलाडियों को आईपीएल में खेलने का भी अनुभव है। विक्टोरिया टीम तो यहां तक दावा करती है कि उनकी ट्वेंटी20 टीम आस्ट्रेलिया की ट्वेंटी20 टीम से भी बेहतर है।

बात यदि गेंदबाजी की करें तो जहां दिल्ली की तेज गेंदबाजी नैंस, ग्लेन मैकग्रा और आशीष नेहरा की तिकडी पर निर्भर करेगी तो स्पिन गेंदबाजी की जिम्मेदारी अमित मिश्रा संभालेंगे। दूसरी ओर विक्टोरिया की टीम नेन्‍स के विरोधी टीम में होने के बावजूद कहीं से कमतर नहीं नजर आती है। टीम के पास पीटर सिडल, एंड्रयू मैकडोनाल्ड और शेन हारवुड की तिकडी़ है इसमें से हारवुड और मैकडोनाल्ड आईपीएल के दूसरे संस्करण में खेल चुके हैं। टीम को स्पिन के मोर्चे पर दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि टीम के पास स्तरीय स्पिनर का अभाव है।

ट्वेंटी20 में क्रिकेट जितना तेज होता है उतने ही फुर्तीले क्षेत्ररक्षकों की जरूरत होती है और आउटफील्ड में आस्ट्रेलियाई खिलाडियों की चपलता किसी से छुपी नहीं है तो यहां इनका पलडा़ भारी नजर आता है।

कोटला की पिच अभी नई बनी है और इसे भारत की सबसे बढिया पिच बताया जा रहा है तो नए टूर्नामेंट में नई पिच पर होने वाले नए मुकाबले का दर्शकों को बेसब्री से इंतजार है। यह मैच शक्रवार को शाम आठ बजे से खेला जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बुशरेंजर्स को काबू में करने उतरेंगे डेयरडेविल्स