DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तूफान का सौदागर हूं, जारी रहेगी रफ्तारः ली

तूफान का सौदागर हूं, जारी रहेगी रफ्तारः ली

आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने अपनी रफ्तार में कमी करने की संभावना से साफ इंकार करते हुए गुरुवार को नई दिल्ली में कहा कि उन्हें 150 किमी से अधिक रफ्तार से गेंद करने और दुनिया का सबसे तेज गेंदबाज कहलाने में ही मजा आता है।

ली ने नई दिल्ली में संवाददाताओं से कहा कि मैं 130 किमी की रफ्तार से गेंदबाजी करने के बारे में सोच भी नहीं सकता। मुझे 150 किमी से अधिक रफ्तार से गेंदबाजी करने और दुनिया में सबसे तेज गेंदबाज कहलाने में मजा आता है। जब तक मेरा शरीर साथ देगा मैं तेज गेंदबाजी करता रहूंगा।

दुनिया में 100 मील के बैरियर के करीब पहुंचने वाले गिने चुने गेंदबाजों में एक ली ने हालांकि माना कि तेज गेंदबाजी करना मुश्किल और चुनौतीपूर्ण है। यह बहुत मुश्किल काम है लेकिन मुझे इसमें मजा आता है। अब तो लगभग हर जगह विकेट भी जीवंत बन रहे हैं।

ली ने इसके साथ ही कहा कि चैंपियन्स लीग टवेंटी20 टूर्नामेंट के बाद भारत और आस्ट्रेलिया के बीच होने वाली सीरीज काफी चुनौतीपूर्ण होगी। उन्होंने कहा कि यह बहुत कड़ी और चुनौतीपूर्ण सीरीज होगी। सात मैचों की सीरीज बहुत महत्वपूर्ण है और जब भी भारत और आस्ट्रेलिया एक दूसरे के खिलाफ खेलते हैं तो कोई भी कसर नहीं छोड़ना चाहता है। हमने इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका (चैंपियन्स ट्राफी) में अच्छा प्रदर्शन किया है और आशा है कि उसे हम यहां भी जारी रखेंगे।

ली ने कहा कि पिछले दो साल में हमारी टीम में काफी युवा खिलाड़ी जुड़े हैं लेकिन यह बहुत अच्छी टीम है और हम सभी अच्छा प्रदर्शन करने पर ध्यान दे रहे हैं। दुर्भाग्य से मैं इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैचों में नहीं खेल पाया लेकिन मेरी अनुपस्थिति में मिशेल जानसन ने बखूबी जिम्मेदारी संभाली। वह गेंद और बल्ले दोनों से अच्छा काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि मैं अभी खुद को फिट महसूस कर रहा हूं तथा अपने खेल का पूरा लुत्फ उठा रहा हूं। मुझे क्रिकेट से प्यार है और मैं अब भी पहले की तरह विकेटों का भूखा हूं। मुझे गर्व है कि मैं इस टीम का हिस्सा हूं।

ली ने चैंपियन्स ट्राफी में आस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच मैच में मैच फिक्सिंग के आरोपों पर यह कहकर पल्ला झाड़ दिया कि इस पर टिप्पणी करना अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) का काम है। इस मैच में पाकिस्तान अंतिम गेंद पर हार गया था जिससे भारत टूर्नामेंट से बाहर हो गया।

उन्होंने कहा कि मैं इस पर (मैच फिक्सिंग मामले पर) टिप्पणी नहीं कर सकता। यह काम आईसीसी का है और वह उसे देख रही है। उस मैच में जब मुझे और नाथन हारिट्ज को पता चला कि मैच टाई रहने पर भी हम सेमीफाइनल में पहुंच जाएंगे तो हमने इसे तवज्जो दी और तय किया कि आखिरी गेंद कहीं भी जाए हम रन के लिए दौड़ पड़ेंगे।

चैंपियन्स लीग में न्यू साउथ वेल्स ब्ल्यूज का प्रतिनिधित्व करने वाले ली ने स्वीकार किया कि आईपीएल की अपनी टीम किंग्स इलेवन पंजाब की बजाय वह खुद को आस्ट्रेलिया की अपनी प्रांतीय टीम के अधिक करीब पाते हैं।

उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर यह (एनएसडब्ल्यू) मेरे दिल के अधिक करीब है। मैं 1997 से इससे खेल रहा हूं और इससे मेरी बहुत सी यादें जुड़ी हैं लेकिन चाहे वह एनएसडब्ल्यू हो या आस्ट्रेलिया या किंग्स इलेवन पंजाब, मैं जिस टीम से भी खेला मैं अपना शत प्रतिशत योगदान देने पर ध्यान देता हूं।

ली ने टेस्ट क्रिकेट को अपनी प्राथमिकता बताया। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट को कोई खतरा नहीं है और वह पहले की तरह बना रहेगा। ट्वेंटी20 इस खेल का नया प्रारूप है और हमें केवल यह सुनिश्चित करना होगा कि खेल के तीनों प्रारूप बने रहें।

रिकी पोंटिंग की कप्तानी की आलोचना के बारे में उन्होंने कहा कि जब आप हारते हैं तो कप्तान को दोषी ठहराया जाता है और जीत पर पुरस्कार लेने भी सबसे पहले वही जाता है। हमारी टीम कप्तान के साथ है। वह अच्छा कप्‍तान है और उसे मीडिया के सामने खुद को साबित नहीं करना है उसने मैदान पर खुद को साबित किया है।

ली ने चैंपियन्स ट्राफी की जीत को टीम के लिए बहुत अहम करार दिया। उन्होंने कहा कि आस्ट्रेलिया ने जिस तरह से चैंपियन्स ट्राफी में खेल दिखाया उससे मैं काफी प्रभावित हूं। हमने शानदार खेल दिखाया और खिताब जीतना हमारा अहम क्षण था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तूफान का सौदागर हूं, जारी रहेगी रफ्तारः ली