DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चुनाव के दौरान सुरक्षा के लिए पहुंची आईटीबीपी की कंपनी

13 अक्तूबर को जिले में निष्पक्ष, स्वतंत्र व शांतिपूर्ण चुनाव सम्पन्न करवाने के लिए आईटीबीपी की एक कम्पनी गुड़गांव पहुंच चुकी है। कम्पनी के जवानों ने फ्लैगमार्च किया, जबकि पंजाब आम्र्ड पुलिस की तीन कम्पनियां भी 8 अक्तूबर को गुड़गांव पहुंच जाएंगी। जिले में पड़ने वाले चारों विधानसभा क्षेत्रों में स्थानीय पुलिस के अलावा, चार कम्पनियां हरियाणा के बाहर से आएंगी।

पुलिस आयुक्त सुरजीत सिंह देशवाल के अनुसार 3878 स्थानीय पुलिस व होमगार्ड कर्मियों के अलावा चार कम्पनियां जिला में शांति व्यवस्था बनाए रखने तथा 13 अक्तूबर को शांतिपूर्ण ढ़ंग से मतदान सम्पन्न करवाने के लिए तैनात किए जाएंगे। सीपी ने बताया कि एसीपी के साथ पुलिस टीम के अतिरिक्त प्रत्येक थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी संभालेंगे।

गुड़गांव जिला में 23 थाने हैं जिनके अनुसार 23 पुलिस पार्टियाँ अपने-अपने थाना क्षेत्र में कानून व्यवस्था पर निगरानी रखेंगी। देशवाल ने बताया कि गुड़गांव को तीन पुलिस जिलों में बांटा गया है। तीन पुलिस उपायुक्तों को भी एक-एक रिजर्व दी जायेगी। इसी प्रकार, संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक मित्तल के पास भी दो रिजर्व अर्थात् 56 पुलिसकर्मी उपलब्ध रहेंगे जिनका प्रयोग जरूरत अनुसार किया जायेगा। महत्वपूर्ण मागों पर पुलिस ने 17 नाके लगाए हैं ताकि असामाजिक तत्वों पर निगरानी रखी जा सके, आवश्यकता पड़ने पर इनकी संख्या बढ़ाई जा सकती है।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि 13 अक्तूबर को मतदान के दिन संवेदनशील, अतिसंवेदनशील तथा क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर स्थानीय पुलिसकर्मियों के अलावा, आईटीबीपी और पंजाब आम्र्ड पुलिस के जवान तैनात किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि मतदान के बाद जिन मतगणना केन्द्रों पर इलैक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन जमा होंगी वहां पर भी अद्र्घ-सैनिक बल के जवान निगरानी के लिए लगाए जाएंगें। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के मतगणना केन्द्र पर अद्र्घ-सैनिक बल के पांच-पांच जवान होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चुनाव के दौरान सुरक्षा के लिए पहुंची आईटीबीपी की कंपनी