DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोहतास में भारी मात्र में विस्फोटक बरामद

रोहतास पुलिस ने मुफस्सिल थाना क्षेत्र के धौडाड़ से बुधवार को भारी मात्र में विस्फोटक बरामद किया। विस्फोटक की यह बड़ी खेप नक्सलियों को सप्लाई करने के लिए लाई गई थी। दो घंटे तक चले छापेमारी अभियान में पुलिस ने सप्लायर गैंग की दो महिलाओं समेत तीन गुर्गो को भी पकड़ा है। हालांकि सरगना भागने में सफल रहा। विस्फोटक के साथ गिरफ्तार सप्लायर सदाम हुसैन ने पुलिस को बताया कि नक्सलियों को सप्लाई करने के लिए विस्फोटक झारखंड से मंगाया गया था।

समझा जाता है कि ताबाही के ये सामान पुलिस पर हमले की साजिश को अमलीजामा पहनाने के लिए नक्सलियों ने मंगवाए थे। पुलिस भी इससे इंकार नहीं करती। बरामद विस्फोटक में 270 डेटोनेटर, 4 क्विंटल एमोनियम नाइट्रेट, 150 डेटोनेटर वायर, 200 लीटर डीजल शामिल हैं।

पुलिस अधीक्षक विकास वैभव ने बताया कि नक्सलियों को सप्लाई करने के लिए सरगना इद्रिस हुसैन के घर में विस्फोटक रखे गये थे। विस्फोटक के साथ शमशन खातून, इदन नेहता व सदाम हुसैन को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि बरामद विस्फोटक को बुधवार को ही नक्सलियों तक पहुंचाने की योजना थी। इसकी सूचना मिलते ही पलिस टीम गठित कर धौडाड़ गांव के बाहर सादे लिबास में लगाया गया।

काफी देर तक इंतजार के बाद भी जब नक्सली नहीं पहुंचे तो पुलिस ने छापेमारी शुरू की गई। दो घंटे तक चली छापेमारी के बाद पुलिस को यह कामयाबी मिली। पुलिस अधीक्षक के अनुसार नक्सलियों को सप्लाई के लिए जो विस्फोटक इक्कट्ठा किए गए थे, उनसे 40 से भी अधिक बड़े केन बम या लैंड माइंस बनाये जा सकते हैं।

पुलिस अधीक्षक विकास वैभव ने बताया कि एक पुलिस जीप उड़ाने के लिए लैंड माइंस में नक्सली पांच किलो एमोनियम नाइट्रेट का प्रयोग करते हैं। इससे यह साफ है कि बरामद विस्फोटक नक्सलियों तक पहुंचने के बाद 80 लैड माइंस बनाने में वे सफल हो जाते, जो पूरे जिले को एक साथ तबाह करने के लिए काफी है।
फोटो:- बरामद विस्फोटक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रोहतास में भारी मात्र में विस्फोटक बरामद