DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारतीय-अमेरिकी वेंकटरमन को मिला नोबेल पुरस्कार

भारतीय-अमेरिकी वेंकटरमन को मिला नोबेल पुरस्कार

तमिलनाडु में जन्मे और कैंब्रिज विश्वविद्यालय में काम कर रहे भारतीय अमेरिकी वेंकटरमन रामकृष्णन को इस वर्ष रसायन विज्ञान के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

चिदंबरम में 1952 में जन्मे रामकृष्णन को यह पुरस्कार अमेरिका के थॉमस ई स्टेत्ज और इस्राइल की अदा ई. योनथ के साथ प्रोटीन का निर्माण करने वाले राइबोसोम की संरचना और कार्यप्रणाली की खोज के लिए संयुक्त रूप से दिया गया है।

तीनों वैज्ञानिक नोबेल मेडल के अलावा 14 लाख डॉलर की पुरस्कार राशि में बराबर के हिस्सेदार होंगे। बुधवार को नोबेल कमिटी ने बताया, ‘इन वैज्ञानिकों ने एक्स-रे क्रिस्टलोग्राफी नामक तकनीक से राइबोसोम का निर्माण करने वाले परमाणुओं की स्थिति का आकलन किया। उनकी खोज एंटीबायोटिक दवाओं के विकास में बेहद उपयोगी है।’

दोस्तों में वेंकी कहे जाने वाले रामकृष्णन ने विज्ञान यात्रा सैद्धांतिक भौतिकविद के रूप में शुरू की थी। फिर वह जीवविज्ञान की ओर मुड़ गए। ‘नेचर’ के 26 अगस्त, 2000 के अंक में उन्होंने राइबोसोम की संरचना का पहली बार खुलासा किया। कैंब्रिज विश्वविद्यालय की एमसीआर लैबोरेटरी में नोबेल हासिल करने वाले वह 13वें वैज्ञानिक हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारतीय-अमेरिकी वेंकटरमन को मिला नोबेल पुरस्कार