DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वरुण को लेकर मोर्चाबंदी शुरू

भाजपा का असली चेहरा बेनकाब : मायावती प्रदेश की मुख्यमंत्री और बहुान समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने पीलीभीत लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार वरुण गांधी की ओर से अल्पसंख्यकों के बारे में दिए गए बयान को बेहद आपत्तिजनक करार देते हुए कहा है कि यह बयान देश व समाज को तोड़ने वाला है।ड्ढr उन्होंने कहा कि वरुण गांधी ने मुसलमानों को लेकर अपनी पार्टी की सोच एवं विचारधारा स्पष्ट कर दी है। इससे भाजपा का असली चेहरा बेनकाब हो गया है।ड्ढr भाजपा अपने सिमटते जनाधार से परेशान है। निराश भाजपा नेता गैरािम्मेदराना बयान देकर जनता को बरगलाने और समाज को बाँटने की कोशिश कर रहे हैं। वरुण ने सोची-समझी साजिश के तहत अल्पसंख्यकों के खिलाफ जहर उगलकर प्रदेश की कानून व्यवस्था को चौपट करने का नाकाम प्रयास किया है। कानून-व्यवस्था खराब करने की कोशिश को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा जिस तरह मुसलमानों के खिलाफ लोगों को भड॥काकर वोट बैंक एक जुट करती है, उसी तरह दूसरी पार्टियों ने मुसलमानों को अपना वोट बैंक बना रखा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस, सपा और भाजपा सब एक ही थैली के चट्टे-बट्टे हैं। ये कभी भी मुसलमानों के हितैषी नहीं हो सकते। वरुण की बातें असंवैधानिक नहीं: भाजपाड्ढr राज्य मुख्यालय। प्रदेश भाजपा ने कहा है कि पीलीभीत में भाजपा प्रत्याशी वरुण गांधी द्वारा चुनाव सभा में हिन्दुत्व की बात करना असंवैधानिक नहीं है। पार्टी के प्रवक्ता हृदय नारायण दीक्षित ने मंगलवार को यहाँ कहा कि कई वर्ष पहले सर्वोच्च न्यायालय ऐसे ही एक मामले में फैसला दे चुका है हिन्दुत्व की बात करना न तो साम्प्रदायिकता है और न ही अलगाव है। उन्होंने कहा कि वरुण ने हिन्दुत्व के आधार पर कुछ बातें कहीं हैं और चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस दिया है। वरुण नोटिस का आदर करेंगे और अपनी सफाई देंगे। भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि कांग्रेस वरुण के भाषण को तोड़-मरोड॥कर पेश कर रही है। कांग्रेस वरुण के भाषण को मुसलमानों के विरोध में बता रही है जबकि कांग्रेस अपने जन्मकाल से अल्पसंख्यकों की विरोधी रही है और उसने देश का विभाजन कराया था।ड्ढr वरुण-अरुण पर मैं नहीं बोलता : मुलायमड्ढr राज्य मुख्यालय। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने भाजपा प्रत्याशी वरुण गांधी की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देने से मना कर दिया। प्रेस कांफ्रेंस में मीडिया ने उनसे कई बार प्रतिक्रिया माँगी। श्री यादव ने हर बार कहा कि वरुण-अरुण जसों पर मैं प्रतिक्रिया नहीं देता। एसे लोग चर्चा में बने रहने के लिए एसी टिप्पणियाँ करते हैं। उन पर प्रतिक्रिया देना उन्हें चर्चा में बनाए रखना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वरुण को लेकर मोर्चाबंदी शुरू