DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हरियाणा नहीं नंबर वन: बृंदा

मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी की राज्यसभा सांसद बृंदा करात ने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से सवाल किया है कि जिस प्रदेश के 86 प्रतिशत बच्चे व 54 प्रतिशत महिलाएं कुपोषण की वजह से खून की कमी का शिकार हों, प्रत्येक डेढ़ मिनट में एक महिला से बलात्कार होता हो वह प्रदेश नंबर वन कैसे हो सकता है? करात मंगलवार को जसबीर स्मारक में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में बोल रही थीं।

वह माकपा के कलानौर विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बिजेंद्र बलियाणा के समर्थन में चुनाव प्रचार करने आई थीं।
करात ने कहा कि हरियाणा में नरेगा योजना के लिए आए 97 करोड़ रुपए में से सात करोड़ रुपए व्यय हुए हैं। प्रदेश में 66 विशेष आर्थिक जोन स्वीकृत हुए जिनमें से एक में भी विकास नहीं हुआ है। किसानों की उपजाऊ जमीन को समेटा जा रहा है।

उन्होंने कहा कि सामाजिक मुद्दों पर प्रदेश सरकार चुप रहती है। खापों की वजह से युवाओं को नागरिक अधिकार नहीं मिल रहा है। महंगाई निरंतर बढ़ती जा रही है जबकि सरकार बीपीएल परिवारों की संख्या नहीं बढ़ा रही है। करात ने कहा कि ऐसे में कैसे कहा जा सकता है कि हरियाणा नंबर वन है। 

पार्टी के प्रदेश सचिव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि हरियाणा में आए दिन अपराध हो रहे हैं। हत्या, चोरी और डकैती की घटनाएं आम हैं। सरकार का कानून व्यवस्था पर कोई नियंत्रण नहीं रह गया है। ऐसे में प्रदेश में बदलाव की जरूरत है। उन्होंने बताया कि हरियाणा की 19 विधानसभा सीटों पर वाम दलों के उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें से 11 माकपा के और आठ भाकपा के हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हरियाणा नहीं नंबर वन: बृंदा