DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चौटाला में कुत्तों की लड़ाई पर मेनका की भौंहें टेढ़ी

चौटाला गांव में कुत्तों की लड़ाई आयोजित कराने पर भाजपा सांसद मेनका गांधी ने स्थानीय पुलिस थाने को पत्र लिख कर जांच की मांग की है। पशुओं के अधिकारों के लिए काम करने वाली मेनका ने इन आयोजनों के लिए ओमप्रकाश हिटलर को दोषी बताया है। हिटलर पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के चाचा हैं और विरोधी भी।
हिटलर और उनके परिवार ने मेनका के आरोपों का खंडन किया है। उनका कहना है कि बिना किसी सबूत के उनके खिलाफ आरोप लगाये गये हैं।

स्थानीय पुलिस को भी आरोपों में सच्चई नहीं नजर आई। पुलिस के मुताबिक राजनीतिक उद्देश्यों की पूर्ति के लिए ये आरोप लगाये गये हैं। ओमप्रकाश हिटलर के बेटे संजय हिटलर ने कहा कि जो लोग वास्तव में ऐसी लड़ाइयों का आयोजन करते हैं उनसे पूछताछ की जानी चाहिये।

हालांकि गांव वाले कुत्तों की लड़ाइयों के आयोजन की पुष्टि करते हैं। ग्रामीणों के मुताबिक ऐसे आयोजन इलाके में आम हैं। उनका कहना है कि कुत्तों की लड़ाइयां रात में  कराई जाती हैं और इसके पीछे मनोरंजन ही उद्देश्य होता है।

मेनका ने अपने पत्र में कहा है कि स्थानीय ग्रामीणों ने शिकायत की है कि पंजाब से कुत्ते लाये जाते हैं और उन्हें कई दिनों तक भूखा रखा जाता है। इसके बाद उन्हें लड़ाई में उतारा जाता है। मेनका ने कहा कि लड़ाइयों के आयोजन पर सट्टा भी खूब लगता है।

उन्होंने कहा है कि लड़ाइयों के दौरान कुत्ते गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं और उनकी मौत भी होती है। कानूनी प्रावधानों में जबकि ऐसी गतिविधियों पर रोक है। पुलिस को दिये बयान में हिटलर ने कहा कि उन्हें कुत्तों से प्यार है और उन्हें वे पालते भी हैं। हिटलर मेनका के आरोपों से खफा हैं और उन्हें कानूनी नोटिस भेजने का भी मन बना रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चौटाला में कुत्तों की लड़ाई पर मेनका की भौंहें टेढ़ी