DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली हाईकोर्ट ने टीचर पर लगाया जुर्माना

दिल्ली हाईकोर्ट ने बच्चों को निजी तौर पर टयूशन पढ़ाने वाली एक टीचर पर छात्र को पीटने के दौरान आंख में गंभीर चोट लगने के कारण दो लाख रुपए का हर्जाना देने और पीड़ित परिवार के किसी एक बच्चों को मुफ्त में एक साल तक टय़ूशन पढाने का आदेश दिया है।


न्यायाधीश जी एस सिस्तानी ने टय़ूटर कमलेश को पांच साल पहले सात साल की छात्र पूजा की आंख में गंभीर चोट पंहुचाने के लिए यह आदेश दिया। सितंबर 2004 में टय़ूटर द्वारा छड़ी से पिटाई के कारण पूजा आंख की गंभीर चोट की शिकार हो गई थी। दोनों पक्षों के बीच आपसी सुलह होने पर टय़ूटर ने उसके इलाज का पूरा खर्च उठाने की रजामंदी दे दी। लेकिन घटना के लगभग एक साल बाद पूजा की किसी अन्य बीमारी के कारण मौत हो गई और उसकी मां ने टय़ूटर के खिलाफ इलाज का खर्चा न देने की एफआईआर दर्ज करा दी। इसे खारिज करने की मांग क रते हुए टय़ूटर ने हाईकोर्ट में अपील की।


अदालत ने सब्जी बेचकर परिवार का भरण पोषण करे वाली पूजा की मां को उसकी गरीबी को देखते हुए दो लाख रुपए का हर्जाना देने और एफआईआर वापस लेने का आदेश दिया।  एफआईआर में घटना के कुछ समय बाद बच्ची के इलाज का खर्चा उठाने से इंकार करने संबन्धी टय़ूटर की शिकायत की गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली हाईकोर्ट ने टीचर पर लगाया जुर्माना