DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह माह तक किया नाबालिग दलित बालिका के साथ दुष्कर्म

नाबालिग दलित बालिका के साथ बहला-फुसला कर दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है। यह खेल छह माह से जारी था। मामला का खुलासा तब हुआ जब बलिका गर्भवती हो गई। चार माह का गर्भ लिए 14 वर्षीय बालिका पुलिस के दरवाजे पर न्याय की गोहार लगा रही है। पुलिस आरोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। घटना छावनी थाना क्षेत्र के सेवरा लाला गाँव की है।

सेवरा लाला गाँव के दलित पुरवा निवासी रीना (काल्पनिक नाम) खेतों में जानवर चराने का काम करती है। गाँव के ही 55 वर्षीय जुकुरुल्लाह पुत्र मोहब्बत अली ने एक महिला के सहयोग से रीना को अपने जाल में फँसाया और पिछले छह माह से उसका यौन शोषण करने लगा। मामले का खुलासा तब हुआ जब रीना को गर्भ ठहर गया। इस समय वह चार माह के गर्भ से है।

परिजनों के पूछने पर उसने कहानी बयाँ की। मामले को दबाने के लिए कुछ प्रभावशाली लोगों ने सोमवार की रात गाँव में पूर्व प्रधान के घर लेनदेन कर सुलह समझौते का प्रयास कराया। लेकिन पीड़िता के परिजन इसके लिए तैयार नहीं हुए। मामला दो समुदाय का होने के चलते गाँव की स्थिति संवेदनशील हो गई है। कुछ लोगों ने आरोपित जुकुरुल्लाह की जमकर पिटाई की और पुलिस के हवाले कर दिया।

रीना के भाई ने मामले की लिखित तहरीर स्थानीय पुलिस को दे दी है। हालांकि मंगलवार की देर शाम तक अभियोग नहीं दर्ज किया था।
रीना चार माह का गर्भ लिए घूम रही है। डाक्टर कुछ करने को तैयार नहीं हैं। खून की कमी का दंश ङोल रही रीना का भविष्य क्या होगा, यह सबसे बड़ा सवाल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छह माह तक किया नाबालिग दलित बालिका के साथ दुष्कर्म