DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अभी और बरसेगा पानी

प्रदेश के पश्चिमी हिस्से और बुन्देलखण्ड के बाद अब सूबे के पूर्वी क्षेत्रों में जमकर बरसात हो सकती है। इसमें राजधानी समेत इसके आसपास का इलाका भी शामिल है। मौसम के बदले रुख को देखकर मौसम विभाग ने चेतावनी तक जारी कर दी है। कहा है कि अगले 24 घंटे के दौरान लखनऊ व आसपास के इलाकों के साथ-साथ राज्य के पूर्वी इलाकों में कुछ जगहों पर भारी बारिश हो सकती है।

 इस बीच पिछले 24 घंटे के दौरान सूबे के पश्चिमी इलाकों के साथ-साथ मध्य क्षेत्र में कहीं सामान्य तो कहीं भारी बरसात हुई है। राजधानी स्थित  आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र को दोपहर तक मिले आँकड़ों के अनुसार प्रदेश में सबसे अधिक वर्षा कानपुर में हुई जहाँ 250 मिली मीटर वर्षा रिकार्ड की गई है जबकि लखनऊ में देर रात से लेकर शुक्रवार को दोपहर तक 98 मिलीमीटर वर्षा हो चुकी थी।

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार दो दिन पूर्व तक तेलांगना के ऊपर जो हवा के कम दबाव बना हुआ था उससे कर्नाटक, महाराष्ट्र तथा गोवा में भारी बारिश हुई। उसके बाद यह सिस्टम विदर्भ पहुँच गया जिससे महाराष्ट्र व मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में जमकर बारिश हुई। इसके बाद यह सिस्टम कमजोर पड़कर पूरब व उत्तर की ओर बढ़ गया जिससे प्रदेश के पश्चिमी हिस्से व बुन्देलखण्ड में जमकर बारिश हुई।

बकौल श्री गुप्ता, इस सिस्टम को अरब सागर से लगातार पर्याप्त मात्र में नमी मिल रही है जिससे यह अब तक पूरी तरह से सक्रिय है और पूरब दिशा की ओर बढ़ रहा है। इससे अब प्रदेश के मध्य क्षेत्रों के अलावा पूर्वी हिस्सों में झमाझम बरसात के आसार हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अभी और बरसेगा पानी