DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वाइन फ्लू को लेकर स्कूलों में सतर्कता बरकरार

दिल्ली के स्कूलों में स्वाइन फ्लू के संक्रमण को लेकर भय और दहशत का माहौल लगभग खत्म हो गया है लेकिन छात्रों में एच1एन1 का संक्रमण रोकने के लिए स्कूल प्रबंधन अब भी एहतियाती उपायों का पालन करने पर जोर दे रहा है।

दो महीने पहले अगर किसी स्कूल में छात्र स्वाइन फ्लू का संदिग्ध पाया जाता था तो कक्षाएं स्थगित कर दी जातीं थीं या पूरा स्कूल ही बंद कर दिया जाता था लेकिन अब स्कूल प्रबंधन और छात्रों ने एहतियाती उपायों को अपना कर स्वाइन फ्लू के खतरे के साथ जीना सीख लिया है।

उदाहरण के लिए संस्कृति स्कूल के एक छात्र को सोमवार को एच1एन1 पाजिटिव पाया गया। छात्र हिमाचल प्रदेश के मासोब्रा के स्कूल दौरे से लौटा था। इस बार अगस्त की तरह स्कूल बंद करने के बजाए छात्रों के लिए एहतियाती उपायों का पालन करने की सलाह दी गई।

स्कूल की वेबसाइट पर लिखे एक संदेश में कहा गया है,‘‘ मासोब्रा ट्रिप से लौटे छात्रों के अभिभावकों को सलाह दी जाती है कि वे अपनों बच्चों में स्वाइन से संबंधित लक्षणों पर नजर रखें और आवश्यक एहतियाती उपाय अपनाएं।’’

दक्षिण दिल्ली के वसंत वैली स्कूल के प्रधानाचार्य अरुण कपूर का कहना है, ‘‘ स्वाइन फ्लू के खतरे को बहुत बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया गया जिससे लोगों में दहशत का माहौल बन गया था जो अब खत्म हो गया है। हमने उस समय भी स्कूल बंद नहीं किया था जब स्वाइन फ्लू का हौवा अपने चरम पर था और अब भी अगर स्वाइन फ्लू का संदिग्ध मामला सामने आता है तो हम स्कूल बंद नहीं करेंगे। हमने सभी एहतियाती उपायों का प्रबंध कर रखा है।’’

सोमवार देर रात तक देश भर में स्वाइन फ्लू के मामलों की संख्या 11,000 तक पहुंच गई और बीमारी से हुई मौतों की संख्या 351 को पार कर गई। इनमें से 15 मौतें राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में हुई हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्वाइन फ्लू को लेकर स्कूलों में सतर्कता बरकरार