DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रामीणों के किया पोलियो अभियान का बहिष्कार

उत्तर प्रदेश के ज्योतिबा फुले नगर जिले में दो गांवों के लोगों ने खराब बुनियादी सुविधाओं के प्रति सरकार और जन प्रतिनिधियों की लगातार उदासीनता से नाराज होकर पोलियो उन्मूलन अभियान का बहिष्कार किया है।

खलकपुर और मेंहदी गांवों के लोगों ने इलाके में बिजली, सड़क और पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं की खस्ता हालत की ओर सरकार और जन प्रतिनिधियों का ध्यान खींचने के लिए चार अक्टूबर को सम्पन्न पल्स पोलियो उन्मूलन अभियान का बहिष्कार किया।

ग्रामीणों को कहना है कि उनका बहिष्कार तब तक जारी रहेगा जब तक उनके इलाके की बुनियादी सुविधाओं को सही नहीं किया जाता।

खलकपुर गांव के सरपंच वीरेंद्र परम सिंह ने कहा कि जब तक गांव की स्थितियों में सुधार नहीं हो जाता, तब तक बहिष्कार जारी रहेगा।

उन्होंने कहा कि गांव में दूषित जल आपूर्ति और खराब सड़कें मुख्य समस्याएं हैं। पिछले 10 सालों से उन्हें केवल आश्वासन ही मिल रहे हैं। खलकपुर गांव की आबादी 2,000 और मेंहदी गांव की आबादी 1,000 है।

उपजिलाधिकारी आर. कृष्णा से जब इस बारे में संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि ग्रामीणों की समस्याओं को हल करने का हर संभव प्रयास किया जाएगा, जिससे पल्स पोलियो उन्मूलन कार्यक्रम सुचारू रूप से संचालित किया जा सके।
 
उल्लेखनीय है कि इस साल एक अक्टूबर तक उत्तर प्रदेश में पोलियो के 314 नए मामले आए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ग्रामीणों के किया पोलियो अभियान का बहिष्कार