DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेरीकॉम बाक्सिंग से अस्थाई तौर पर निलंबित

मेरीकॉम बाक्सिंग से अस्थाई तौर पर निलंबित

चार बार की विश्व चैंपियन एम सी मेरीकॉम को खिलाड़ी भावना के विपरीत आचरण के लिए 27 अक्तूबर तक मुक्केबाजी से निलंबित कर दिया गया।

राष्ट्रीय महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में हरियाणा की पिंकी जिंगरा ने आल इंडिया पुलिस बोर्ड की मेरीकॉम को हरा दिया था। हाल ही में राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार जीतने वाली मेरीकॉम 46 किलो लाइट फ्लायवेट वर्ग में काउंटबैक में 1-4 से हार गई थीं। उसने जजों के खिलाफ कथित तौर पर खिलाड़ी भावना के विपरीत भाषा का इस्तेमाल किया।

भारतीय मुक्केबाजी महासंघ ने घटना के बाद आपात बैठक बुलाकर उसे 27 अक्तूबर तक मुक्केबाजी से निलंबित कर दिया। आईबीएफ के सीनियर संयुक्त सचिव और चैंपियनशिप के पर्यवेक्षक अनिल बोडार ने बेहतर तकनीक, रक्षण और शैली के आधार पर पिंकी को विजेता घोषित किया।

आईबीएफ के समन्वयक राकेश ठकरान ने कहा कि 27 अक्तूबर तक मेरीकॉम को निलंबित करने का फैसला आईबीएफ उपाध्यक्ष एन एस किची की अध्यक्षता वाली नौ सदस्यीय जूरी ने लिया। हैदराबाद में 27 अक्तूबर को होने वाली आईबीएफ की एजीएम में इस मसले पर बात की जाएगी।

मेरीकॉम और एल सरिता देवी ने क्षेत्रीय पक्षपात का आरोप लगाते हुए कहा कि आईबीएफ की एक लाबी ने सुनियोजित साजिश की जिससे उन्हें पराजय का सामना करना पड़ा। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि पूर्वोत्तर के मुक्केबाजों के साथ आईबीएफ के कुछ अधिकारी पक्षपातपूर्ण बर्ताव करते हैं। मेरीकॉम ने कहा कि वह मंगलवार को आईबीएफ महासचिव पीकेएम राजा से इस बारे में बात करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मेरीकॉम बाक्सिंग से अस्थाई तौर पर निलंबित