DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्टील किंग की झारखंड, उड़ीसा योजना खटाई में

स्टील किंग की झारखंड, उड़ीसा योजना खटाई में

विश्व की सबसे बड़ी इस्पात निर्माता आर्सेलरमित्तल के प्रमुख लक्ष्मी निवास मित्तल ने कहा कि कंपनी भूमि अधिग्रहण में हो रही देरी के कारण झारखंड और उड़ीसा की 20 अरब डॉलर की योजना रद्द कर सकती है। उन्होंने कहा कि इस परियोजना को भारत में कहीं और स्थापित करने पर विचार किया जाएगा।

आर्सेलर मित्तल के अध्यक्ष और मुख्य कार्याधिकारी मित्तल ने ब्रिटेन के अखबार फिनांशल टाईम्स से कहा कि यदि हम इन दो जगहों पर काम नहीं कर सकते तो हमें इस परियोजना को रद्द कर विस्तार के संबंध भारत में कहीं और जगह देखनी होगी।

मित्तल ने कहा कि संयंत्रों के लिए आवश्यक जमीन बेचने के लिए किसानों और अन्य को राजी करने में हो रही देरी कंपनी को स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि हालांकि पिछले दो साल से तैयारी हो रही है लेकिन संयंत्र को छोड़ने से कंपनी को न के बराबर नुकसान होगा क्योंकि अभी तक जमीन का अधिग्रहण नहीं हुआ है और कोई निर्माण कार्य शुरू नहीं हुआ है।

आर्सेलर मित्तल ने पिछले महीने भारतीय इस्पात कंपनी उत्तम गल्वा में 35 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण के संबंध में समझौता किया है। फिनांशल टाईम्स की खबर में कहा गया लक्ष्मी मित्तल 20 अरब डालर की योजना से हाथ खींचने वाले हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्टील किंग की झारखंड, उड़ीसा योजना खटाई में