DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

..ना उम्र की सीमा हो, ना कद का हो बंधन

..ना उम्र की सीमा हो, ना कद का हो बंधन

विवाह पति-पत्नी के बीच एक-दूसरे के प्रति दिल से किया गया समर्पण है और रोमांस तो पूरी तरह से एक-दूसरे की पसंद-नापसंद पर आधारित घनिष्ठता होता ही है। ऐसे में परंपरागत रीति-रिवाजों के मुकाबले नए जमाने में ‘चाहत’ को प्रमुखता दी जने लगी है। तभी तो रस्में भी बदलती नजर आ रही हैं और चाहत का मापदंड भी। विवाह और रोमांस में उम्र और कद को लेकर भी स्थिति कुछ ऐसी ही है। 
 
उम्र के फासले हैं बेमानी
ऐसा नहीं है कि शादी या मोहब्बत को लेकर सिर्फ सिलेब्रिटीज ही उम्र के फासले को नजरअंदाज करती हैं। यह हकीकत अब आम समाज में भी नजर आने लगी है। ‘विवाह में उम्र को लेकर पहले जो अवधारणाएं थीं, उनमें कुछ भी नुकसान नहीं था। अब यदि इसमें कुछ परिवर्तन नजर आने लगा है तो इसको लेकर भी नाक-भौं सिकोड़ने की जरूरत नहीं है। पुरुषों की उम्र महिलाओं से काफी अधिक भी हो सकती है और सबसे बड़ी बात यह है कि दांपत्य या रोमांटिक जीवन में महिलाएं भी पुरुषों से उम्र में बड़ी हो सकती हैं।’ कहती हैं एक कंपनी में मानव संसाधन विभाग में कार्यरत तनूज सिंह। वह बताती हैं, ‘मैंने लव मैरिज की है और मैं अपने पति से लगभग 8 साल बड़ी हूं। साथ-साथ काम करते हुए ही हम दोनों ने एक-दूसरे को पसंद किया, पर जब बात शादी की आई तो हम दोनों के ही घर में भूचाल आ गया। किसी तरह हम दोनों शादी के बंधन में बंध सके, पर आज हम बेहद खुश हैं।’

यदि चारों ओर नजर डाली जए तो ऐसे अनेक उदाहरण मिल जएंगे, जहां विवाह, लिव-इन रिलेशनशिप या अफेयर में उम्र का अंतर काफी है। 50 वर्षीय मैडोना के प्रेमी जीसस सिर्फ 22 साल के हैं। मीडिया महारथी रूपर्ट मडरेक की पत्नी उनसे करीब तीन दशक छोटी हैं। यदि भारतीय परिप्रेक्ष्य में बात करें तो यहां भी उम्र के फासले की तमाम शादियां व प्रेम गाथाएं हैं। अपने जमाने के सुपर स्टार राजेश खन्ना ने अपने से कम उम्र की डिंपल कपाड़िया से शादी की थी। अभिनय के शहंशाह दिलीप कुमार ने सायरा बानो से शादी की, जो उनसे लगभग 20 साल छोटी थीं। सैफ अली खान का नाम आज करीना कपूर के साथ भले ही जुड़ा हो, लेकिन कुछ साल पहले उन्होंने अमृता सिंह से शादी की थी, जो उम्र में उनसे कई साल बड़ी थीं।
 
पिछले दिनों आई फिल्म ‘चीनी कम’ में 60 प्लस के अमिताभ को 30 प्लस की तब्बू के साथ रोमांस करते दिखाया गया है। इसी तरह ‘दिल चाहता है’ जसी फिल्में भी बनी हैं, जिनमें कम उम्र के अक्षय खन्ना अपने से अधिक उम्र की डिंपल कपाड़िया से प्रेम करते हैं। तात्पर्य यह कि उम्र कुछ भी हो, दिल में चाहत होनी चाहिए, रिश्ते को निभाने का दम-खम होना चाहिए।

कद का यू-टर्न
उम्र के साथ-साथ कद को लेकर भी परंपरागत सोच में बदलाव नजर आने लगा है। कोई जरूरी नहीं है कि लड़के की लंबाई शादी या चाहत के इजहार के लिए लड़की से ज्यादा ही हो। लड़के की लंबाई कम भी हो सकती है। फ्रांस के राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी और मॉडल कार्ला ब्रूनी, हॉलीवुड अभिनेता टॉम क्रूज और अभिनेत्री कैटी होम्स, लेखक सलमान रुश्दी और मॉडल पद्मालक्ष्मी आदि इसके बेहतर उदाहरण हैं। कैटरीना भी सलमान से कद में छोटी नहीं हैं!

लड़कियों को भी अब इस हिसाब से कोई फर्क नहीं पड़ता। फैशन डिजइनिंग का कोर्स कर रही अंशु कहती हैं, ‘लड़कों को स्मार्ट और हेल्दी होना चाहिए। लंबाई थोड़ी-बहुत कम भी है तो कोई बात नहीं।’ हालांकि ऐसे लोगों की भी कमी नहीं जो उम्र के इस फासले को, कद के इस अंतर को सही नहीं मानते, पर सच तो यही है कि यह सोचने का उनका अपना नजरिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:..ना उम्र की सीमा हो, ना कद का हो बंधन