DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कंप्यूटर फोरेंसिक में शानदार नौकरियां

एथिकल हैकिंग/प्रोग्रामिंग

हैकर का नाम सुनते ही जेहन में ऐसी तस्वीर सामने आती है जो आपके महत्वपूर्ण डाटा को चुरा सकता है लेकिन  एथिकल हैकर आपका इंटरनेट मित्र है, जो आपके इंटरनेट इस्तेमाल को सेफगार्ड प्रदान करता है। हैकर आपकी सिक्योरिटी को मजबूत करते हैं। इसके उलट क्रेकर वह लोग होते हैं, जो साइबर क्राइम में लिप्त होते हैं। एथिकल हैकर, साइबर क्रिमिनल से चार कदम आगे की सोचता है।  बेहतरीन हैकर बनने के लिए जरूरी है कि आप बुद्धिमान और उम्दा प्रोग्रामर हों। आपकी ऑपरेटिंग सिस्टम पर जबरदस्त पकड़ हो। नेटवíकंग के ज्ञान के साथ-साथ आपको टीसीपी/आईपी का बेहतर ज्ञान होना चाहिए। विंडो हैकिंग, ई-मेल ट्रेसिंग जैसी मूलभूत चीजों के बारे में मालूम होना जरूरी है। इसमें इस्तेमाल होने वाले कंप्यूटरों की क्षमता काफी तेज होती है जिसका कारण उनमें लगे हुए चिप होते हैं।

 

नेटवर्किग/डाटा रिकवरी

एक नेटवर्किग स्पेशलिस्ट के तौर पर आप संस्थान के कंप्यूटर नेटवर्क की सुरक्षा के जिम्मेदार होते हैं। नेटवर्क केमार्फत स्टाफ डाटा ट्रांसफर और एक दूसरे से संपर्क साधता है। नेटवर्क सुरक्षा के बीच आए छोटे से फर्क से समूचा सिस्टम खराब हो सकता है। आम सर्टिफिकेट कोर्स के अलावा आप सिक्योरिटी, आईपी टेलीफोनी, वायरलैस, लेन, वेन की जानकारी प्राप्त कर नेटवार्किंग के क्षेत्र में सफलता हासिल कर सकते हैं। टेक्नोलॉजी की दुनिया में अकसर डाटा खो जाने और इंक्रिप्शन जैसी दिक्कतें आम हैं। ऐसे में डाटा रिकवरी से जुड़े लोगों की काफी मांग है। फोरेंसिक के लोगों कोकंप्यूटर के साथ मोबाइल, यूएसबी और मीडिया प्लेयर के डाटा को रिकवर करने के बारे में जानकारी होनी चाहिए।


एंटी पायरेसी/ गैजेट रिकवरी

पायरेसी से निपटने के लिए थिएटरों को डिजिटल प्रोजेक्शन सिस्टम से लैस किया जा रहा है। इससे थिएटर में दिखाई जाने वाली फिल्मों की नकली डीवीडी बना पाना मुश्किल होगा। अगर थिएटर में इन फिल्मों की पायरेटेड कॉपी बनाई जाती है तो आसानी से  पता लग जाएगा कि इन फिल्मों की कॉपी कौन से थिएटर पर बनाई गई। एक नए सॉफ्टवेयर की मदद से मूवी पर फोरेंसिक वाटर माíकंग भी संभव हो गई है। डिजिटल प्रोजेक्टेड मूवी को  कंप्यूटर पर डाउनलोड कर  प्रोग्रामिंग की जाती है। मोबाइल, कंप्यूटर, पीडीए जैसी डिवाइस में डाटा नष्ट होने की घटनाएं आम हैं। ऐसे में गैजेट से डाटा को निकालने के लिए रिकवरी की जाती है,  वहीं मोबाइल के गुम होने पर उसे खोजने में फोरेंसिक का इस्तेमाल किया जाता है।

 

डीएनए मैचिंग/ मेडिकल डिटेक्टिव

अकसर ऐसे मामले सामने आते हैं कि अस्पताल में किसी का नवजात बच्चाा किसी दूसरे बच्चाे से बदल जाता है। शक होने पर अपना असली बच्चा पाने के लिए मां-बाप डीएनए मैचिंग की मदद लेते हैं, जो फोरेंसिक साइंस का ही प्रमुख क्षेत्र है। चूंकि प्रत्येक व्यक्ति का डीएनए यूनिक होता है ऐसे में किसी व्यक्ति की पहचान करने के लिए डीएनए मैचिंग एक प्रभावशाली टूल है। इसमें करियर बनाने के लिए आपको विज्ञान के साथ-साथ कंप्यूटर की भी समझ होनी चाहिए। टेक्नोलॉजी ने हेल्थ सेक्टर में भी काफी तरक्की कर ली है। ऐसे में डीएनए और सेलिवा की सैंपलिंग के द्वारा कुछ ही देर में पता कर लिया जाता है कि किसी रोग की मूल जड़ क्या है। आने वाले समय में न सिर्फ अपराधों की गुत्थी सुलङोगी बल्कि हेल्थ सेक्टर में इन मेडिकल डिटेक्टिव की मदद से कई रोगों और बीमारियों का हल खोजा जा सकेगा।


साइबर फोरेंसिक एक्सपर्ट की कहां हैं जरूरत
ल्ल  दिन-ब-दिन बढ़ रही साइबर क्राइम की घटनाओं की वजह से पुलिस में इसकी मांग ज्यादा है।
ल्ल बैंकों में डाटाबेस को मजबूत करने के लिए साइबर सिक्योरिटी के लोगों की काफी मांग है।
ल्ल प्राइवेट कंपनियों में साइबर सुरक्षा को पुख्ता करने के लिहाज से साइबर फॉरेंसिक एक्सपर्ट की डिमांड बढ़ेगी।
ल्ल फोरेंसिक लैब में भी साइबर एक्सपर्ट इंवेस्टीगेटर की मांग बढ़ेगी।
ल्ल कंपनियों की वेबसाइटों में तेजी से बढ़ रही है एथिकल हैकरों की मांग

साइबर फॉरेंसिक में सर्टिफाइड कोर्स
सी-डेक  का पीजी डिप्लोमा इन इनफॉर्मेशन सिस्टम एंड साइबर सिक्योरिटी
इनकेस गाइडेंस सॉफ्टवेयर का सर्टिफाइड कोर्स
ग्लोबल इनफॉर्मेशन एश्यूरेंस सर्टिफिकेशन कोर्स
इसके अलावा आप नेटवर्किग के लिए सीसीएनए कोर्स, सिक्योरिटी के लिए सिसको का कोर्स और सर्टिफाइड एथिकल हैकर का कोर्स कर फॉरेंसिक इंवेस्टीगेटर बन सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कंप्यूटर फोरेंसिक में शानदार नौकरियां