DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाणिज्य महाविद्यालय में तोड़फोड़, आगजनी

नातक परीक्षा शुरू होने के साथ ही पटना विवि में बवाल शुरू हो गया। वाणिज्य महाविद्यालय में 75 फीसदी उपस्थिति नहीं होने से सेंटअप से वंचित 35 छात्रों ने अपने साथियों के साथ मिलकर हंगामा किया। इस दौरान कॉलेज में जमकर तोड़फोड़ की और परीक्षा शाखा में आगजनी का प्रयास किया। छात्रों के हंगामे के कारण कॉलेज में स्थित केंद्र पर परीक्षा कार्य समय पर शुरू नहीं कराया जा सका।ड्ढr लगभग सवा घंटे बाद परीक्षा शुरू करायी गयी।ड्ढr ड्ढr वज्रवाहन के साथ पहुंचे पुलिस बल ने हंगामा कर रहे छात्रों को शांत कराया। वहीं प्रति कुलपति प्रो. एसआई अहसन ने 60 फीसदी उपस्थिति वाले छात्रों को परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दे दी। इसके बाद शांतिपूर्ण माहौल में परीक्षा हुई। वाणिज्य महाविद्यालय में सुबह साढ़े नौ बजे सेंटअप नहीं होने वाले छात्र पहुंचे और हंगामा शुरू कर दिया। छात्र परीक्षा में शामिल होने की मांग कर रहे थे। इस मसले पर जब कॉलेज प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं हुई तो छात्र उग्र हो गए और तोड़फोड़ शुरू कर दिया। इस बीच मेन गेट से भीतर घुसकर कुछ छात्रों ने नोटिस बोर्ड में आग लगा दी। इसके बाद बाहर में हंगामा कर रहे छात्रों ने परीक्षा भवन की खिड़की तोड़कर भीतर आग लगाने का प्रयास किया। इसी बीच पुलिस वहां पहुंच गयी और छात्रों को शांत कराया। हंगामा कर रहे छात्रों को समझाने प्रति कुलपति भी पहुंचे।ड्ढr ड्ढr छात्रों ने कहा कि 60 फीसदी अटेंडेंस और मेडिकल सर्टिफिकेट देने के बाद भी हमें प्रवेश पत्र नहीं दिया जा रहा। छात्रों की इस कंप्लेन के बाद प्रति कुलपति ने 60 फीसदी उपस्थिति वाले छात्रों को प्रवेश पत्र देने का निर्देश दे दिया। इसके बाद भी 13 छात्र कम उपस्थिति के कारण परीक्षा देने से वंचित रह गए। छात्रों के हंगामे के कारण वाणिज्य महाविद्यालय केंद्र पर सवा 11 बजे से परीक्षा शुरू हुई। परीक्षार्थियों को पिछले गेट से प्रवेश कराया गया।ड्ढr ड्ढr इस संबंध में प्राचार्य डा. बीएन पांडेय ने बताया कि शैक्षणिक वातावरण सुधारने के लिए कड़े कदम उठाने होंगे। छात्र गलत प्रमाण पत्र के आधार पर परीक्षा में शामिल होने की मांग कर रहे थे। उन्होंने बताया कि उपद्रवी छात्रों ने लगभग 20 हाार रुपये के उपकरणों को नष्ट किया है और इसकी रिपोर्ट विवि प्रशासन को सौंपी जाएगी। उन्होंने कहा कि परीक्षार्थियों को अतिरिक्त समय दिया गया ताकि वे प्रश्नों को हल कर सकें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वाणिज्य महाविद्यालय में तोड़फोड़, आगजनी