DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विदेशी छात्रों ने अंग्रेजों को अंग्रेजी में पछाड़ा

हाल ही में ब्रिटेन में हुए एक अध्ययन में खुलासा हुआ है कि ब्रिटेन में विदेशी छात्रों की अंग्रेजी ब्रिटिश छात्रों की तुलना में अधिक मजबूत होती है।

क्वीन्स इंग्लिश सोसायटी द्वारा कराए गए अध्ययन के अनुसार स्नातक स्तर के अंग्रेज छात्र अपने विदेशी समकक्षों की तुलना में वर्तनी और व्याकरण संबंधी गलतियां तीन गुना अधिक करते हैं। शोधकर्ताओं ने छात्रों की उत्तर पुस्तिकाओं आदि की जांच पड़ताल के बाद यह निष्कर्ष निकलता है। अध्ययन में स्नातक स्तर के 28 छात्रों को शामिल किया गया था। इसमें 18 ब्रिटिश और 10 विदेशी छात्रों को लिया गया था।

अध्ययन के अनुसार औसत अंग्रेज छात्रों ने 52.2 फीसदी वर्तनी और व्याकरण संबंधी गलतियां की जबकि विदेशी छात्रों की इनकी तुलना में केवल 18.8 फीसदी गलतियां की थी। अर्धविराम, क्रिया आदि का भी व्याकरण के नियमों के विरुद्ध प्रयोग किया था। यही नहीं अस्पष्ट वाक्यों का भी भरपूर उपयोग किया गया था।

अध्ययनकर्ताओं का मानना है कि विदेशी छात्र अंग्रेजी के प्रयोग को लेकर अंग्रेज छात्रों से ज्यादा सतर्क रहते हैं इसीलिए वह अंग्रेजो को उनकी मातृभाषा में भी पछाड़ देते हैं।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विदेशी छात्रों ने अंग्रेजों को अंग्रेजी में पछाड़ा