DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निर्मल शर्मा हत्याकांड: सीबीआई ने इंस्पेक्टर को किया तलब, संदेह के घेरे में

चार्टड एकाउंटेंट निर्मल शर्मा हत्याकांड में तत्कालीन इंस्पेक्टर सदर की भूमिका पर ही सवाल खड़े हो गए हैं। कई बार बुलाने के बावजूद भी जब इंस्पेक्टर ने सीबीआई टीम को बयान देने की जरुरत नहीं समझी तो मजबूरन टीम को उन्हें नोटिस देकर बुलाना पड़ गया। सूत्रों की मानें तो सीबीआई टीम को कोई खास सहयोग भी नहीं किया जा रहा है।

शनिवार को दिल्ली से इनोवा गाड़ी में सर्किट हाऊस पहुंचे सीबीआई के आईजी जकी अहमद, एक एसपी और चार इंस्पेक्टर ने इंस्पेक्टर विजय कुमार और शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर से भी बात की। टीम ने मौका-ए-वारदात का भी जायजा लिया। यहां तक गोली लगने के एगिंल की भी अधिकारियों ने जांच की। कई जगह जाने के बाद अधिकारी देर रात वापस दिल्ली चले गए। सूत्रों की मानें तो चार इंस्पेक्टर यहीं पर रुककर सारे मामले में साक्ष्य जुटाकर सारी रिपोर्ट 13 अक्टूबर को सीबीआई कोर्ट में दाखिल करेंगे।

सूत्रों की मानें तो सीबीआई को अभी तक मौके की फोटो और शव की तस्वीरें भी नहीं दी गई हैं। इस मामले में घटना के वक्त इंस्पेक्टर रहे विजय कुमार की भूमिका पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं। इंस्पेक्टर विजय कुमार फिलहाल जेपीनगर में तैनात हैं। शनिवार को सीबीआई की टीम ने घटनास्थल का दौरा किया। उसके बाद टीम अस्पताल, डॉ निर्मल शर्मा के आवास के पास और ऋषिनगर भी पहुंची। ऋषिनगर में निर्मल शर्मा हत्याकांड में आरोपी बनाए गए तेजवीर सिंह के घर के आसपास जाकर भी पूछताछ की।

सीबीआई टीम ने तेजवीर सिंह की बहू डॉ. सुनीता की हत्या के बारे में भी पूरी जानकारी ली। सुनीता हत्या में भी यह सामने आया था कि तेजवीर सिंह का रिश्तेदार उनके घर पर आकर निर्मल शर्मा की हत्या के मामले में मिले सुपारी के पैसों में से हिस्सा देने को कहता था। तेजवीर सिंह ने ऐसी किसी रकम के बारे में जानकारी होने से इंकार कर दिया जिसके बाद हुए विवाद में करीबी रिश्तेदार ने उनकी बहू डॉ. सुनीता की गोलियां मारकर हत्या कर दी थी।

यहां से जानकारी जुटाने के बाद टीम ने कई और दूसरी जगह जाकर भी साक्ष्य जुटाए। सीबीआई टीम को जिस साइड से गोलियां मारना बताया गया था उसकी असलियत जानने के लिए टीम ने पूरे एंगिल की भी जांच की। इसके बाद टीम सर्किट हाऊस पहुंची जहां अधिकारियों ने शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर से बात की। इसके बाद जेपीनगर से पहुंचे इंस्पेक्टर विजय कुमार से भी बंद कमरे में घंटों जानकारी ली गई। शहर के कई और दूसरे लोगों से भी पूछताछ हुई है।

गौरतलब है कि चार्टर्ड एकाउंटेंट निर्मल शर्मा की 2005 में थापरनगर में उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी गई थी जब वह अपनी ससुराल से निकल कर घर जा रहे थे। इस मामले में निर्मल की पत्नी संप्रदा की याचिका पर हाईकोर्ट ने सीबीआई जांच के आदेश दिए थे। सरकार इस मसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट तक गई, लेकिन वहां से भी हाईकोर्ट का आदेश सही माना गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:निर्मल शर्मा हत्याकांड: सीबीआई ने इंस्पेक्टर को किया तलब