DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइबर सिटी के लोग बिजली कट के झटकों से परेशान

साइबर सिटी के लोगों को चुनावी मौसम में भी बिजली कट की समस्या से छुटकारा नहीं मिल सका है। लोग बिजली की अनियमित कटौती से जूझ रहे हैं। हालात ऐसे हैं कि बिजली गुल होने के बारे में भी लोगों को जानकारी नहीं दी जाती है। लोगों को अन्य परेशानियों से भी जूझना पड़ रहा है।

विधानसभा चुनाव को देखते हुए साइबर सिटी के लोगों को आशा थी कि मूलभूत समस्याओं का समाधान हो जाएगा। तीन महीने तक तो बिजली के झटके से राहत मिलेगी। लेकिन, ऐसा कुछ भी नजर नहीं आ रहा है। बिजली की अनियमित कटौती ने लोगों को त्रस्त कर रखा है। दिन में सुबह, दोपहर और रात में एक से दो घंटे के कट लगाए जा रहे है।

कभी-कभी दिन भर बिजली के दर्शन नहीं होते है। अजरुन नगर निवासी संजय ने बताया कि कई बार तो बिजली सुबह ही गुल हो जाती है। इससे पानी का संकट उत्पन्न हो जाता है। सरकार लोगों की समस्याओं का चुनावों के समय भी ध्यान नहीं रख पा रही है। शहर में कई जगह सड़क गड्ढों में तब्दील हो चुकी है। लेकिन, इस ओर किसी का ध्यान नहीं हैं।

पुराने और डीएलएफ सहित कई हुडा के सेक्टरों में लोग मूलभूत सुविधाओं से त्रस्त हैं। सेक्टर-14 के रामअवतार ने बताया कि एक सप्ताह से सफाई नहीं हो पा रही है। लेकिन, इस ओर किसी का ध्यान नहीं है। इसका खामियाजा सरकार को उठाना पड़ सकता है। प्रशासनिक अधिकारी चुनावी तैयारियों में लगे होने के कारण समस्याओं की ओर ध्यान नहीं दे पा रहे है।

बिजली विभाग के अनुसार कम बरसात और अक्टूबर में भी मौसम में ठंडी ना होने से लगातार बिजली की डिमांड कम होने का नाम नहीं ले रही है। इसी के चलते कट लगाए जा रहे है। एक अनुमान के अनुसार गुड़गांव में 150 करोड यूनिट बिजली की मांग है जबकि आपूर्ति एक करोड बीस लाख यूनिट मिल पा रही है। निगम के अनुसार दिपावली को देखते हुए मेन्टीनेंस कार्य चल रहा है। जिसकी वजह से भी कट लगाने पड़ रहे हैं ताकि दिपावली के त्यौंहार के दिन बिजली की समस्या ना होने पाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साइबर सिटी के लोग बिजली कट के झटकों से परेशान