DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्युतगृहों को एनसीएल ने दी थोड़ी राहत

कोयले की किल्लत से बुरी तरह जूझ रहे विद्युतगृहों को एनसीएल ने चालू वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही (जुलाई-सितम्बर) के दौरान निर्धारित लिंकेज से कहीं बेहतर कोयला आपूर्ति सुनिश्चित कराई है। हालांकि इतनी मशक्कत के बाद भी अनेक विद्युतगृहों में कोयले का स्टॉक अब भी पर्याप्त नहीं है। गर्मी में बिजली की बढ़ी मांग के कारण मशीनों का अनुरक्षण स्थगित किये जाने से बढ़ी कोयले की खपत को इसकी वजह बताया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, जुलाई, अगस्त व सितम्बर के महीनों में एनसीएल ने 14.25 मिलियन टन लिंकेज के सापेक्ष विद्युतगृहों एवं अन्य उपभोक्ताओं को कुल 15.02 मिलियन टन कोयले की आपूर्ति सुनिश्चित कराई है। सितम्बर माह में लक्ष्य से लगभग 105.3 प्रतिशत अधिक कोयले की आपूर्ति की गयी, जिसमें यूपीआरवी यूएनएल के विद्युतगृहों को 108 प्रतिशत व एनटीपीसी के विद्युतगृहों को 103 प्रतिशत लिंकेज का कोयला दिया गया।

अगस्त माह में 4.75 मिलियन टन कोयले के सापेक्ष 4.879 मिलियन टन व जुलाई माह में 5.153 मिलियन टन कोयले की आपूर्ति सुनिश्चित कराई गयी। वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में हालांकि एनसीएल निर्धारित लिंकेज के सापेक्ष महज 95 प्रतिशत ही कोयले की आपूर्ति कर सका था, जिसके कारण यूपीआरबी यूएनएल के विद्युतगृहों में कोयले के स्टॉक लगातार क्रिटिकल और सुपर क्रिटिकल हालात में रहे, किन्तु दूसरी तिमाही में बारिश के बावजूद हालात काफी बेहतर रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विद्युतगृहों को एनसीएल ने दी थोड़ी राहत