DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वेश्यावृत्ति और नशाखोरी को लेकर रेस्टोरेंट पर किया हंगामा

शहर के एक रेस्टोंरेंट में असामाजिक कार्य चलाए जाने के आरोप में देर रात मुहल्लें के लोगों ने धावा बोल दिया। रेस्टोंरेंट संचालक व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। आरोप है कि रेस्टोरेंट की आड़ में वेश्यावृत्ति व नशाखोरी कराई जाती है। इस दौरान गुस्साई भीड़ ने रेस्टोंरेंट में मौजूद कर्मचारियों व संचालक से हाथापाई की। मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह भीड़ को शांत किया। इस दौरान लोग पुलिस वालों से ही उलझ पड़े।

गुरुवार देर रात करीब साढ़ नौ बजे एनएच-5 स्थित फूड फेस्टा रेस्टोरेंट के सामने वाली गली से करीब पचास महिलाएं व सौ से ज्यादा पुरुष रेस्टोंरेंट के बाहर जमा हो गए। उन्होंने रेस्टोरेंट संचालक के खिलाफ नारेबाजी शुरु कर दी। रात करीब बारह बजे तक प्रदर्शन होता रहा। प्रदर्शनकारी रेनू वर्मा व नीतू वर्मा का आरोप है कि रेंस्टोरेंट संचालक टोनी उर्फ चंद्रमोहन व उसके साथियों ने शराब के नशे में उनके पति के साथ गाली-गलौज की। लोगों का आरोप है कि संचालक रेस्टोंरेंट की आड़ में लड़कियों से वेश्यवृत्ति व नशाखोरी कराता है।

रात में शराब के नशे में युवक रेस्टोरेंट से निकलते है। गली की महिलाओं व लड़कियों से छेडछाड़ की जाती है। इसकी शिकायत कई दफा पुलिस अधिकारियों व नगर निगम अधिकारियों से की गई। कोई कार्रवाई नहीं हुई। हंगामें के दौरान रेस्टोरेंट के वेटर राजू से मारपीट की गई। हंगामें की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई।

पुलिस वालों को भी भीड़ के आक्रोश का सामना करना पड़ा। एसीपी दर्शन लाल मलिक ने रेस्टोरेंट खुलवाकर जांच की। लेकिन कुछ भी नहीं मिला। एक महिला की शिकायत पर पुलिस ने रेस्टोरेंट संचालक टोनी उर्फ चंद्रमोहन, कर्मचारी राजू व उनके दोस्त तरुण के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उधर, संचालक चंद्रमोहन ने अपने उपर लगे सभी आरोपों को गलत बताया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वेश्यावृत्ति और नशाखोरी को लेकर रेस्टोरेंट पर किया हंगामा