DA Image
29 फरवरी, 2020|8:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नरेगा में गड़बड़ी की जांच के दौरान चले लाठी-डंडे

 उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में राया विकास खंड के गांवगंजू में राष्र्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (नारेगा) में गड़बड़ी की शिकायतों की जांच करने आए अधिकारियों के एक दल के समक्ष ही शिकायतकर्ता तथा प्रधान पक्ष के लोग आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों में जमकर लाठी-डंडे चले। नतीजतन अधिकारियों को अपनी जान बचाकर मौके से भागना पड़ा।

जिला मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार महिला ग्राम प्रधान रेशमा देवी के खिलाफ नरेगा के 16 लाख रुपयों की हेराफेरी का आरोप लगाया गया था। शिकायतकर्ता ओमप्रकाश का कहना था कि प्रधानपति ने अपने नाबालिग बच्चों के नाम पर तक नरेगा में कार्य करने के एवज में भुगतान लिया था।

इस मामले में जिला प्रशासन की ओर से जांच करने आए मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा़ एके सिंह जब प्राथमिक पाठशाला में ग्रामीणों के बयान दर्ज कर रहे थे तभी प्रधान पक्ष के लोगों ने आकर उनका विरोध करना शुरू कर दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:नरेगा में गड़बड़ी की जांच के दौरान चले लाठी-डंडे