DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोती रही पुलिस, थाने के सामने चेन स्नैचिंग

देश की राजधानी दिल्ली पिछले कुछ दिनों से अपराधियों के निशाने पर है। धीरे-धीरे लोगों के बीच इसे अपराध की राजधानी भी कहा जाने लगा है। चोरी-छीना झपटी आदि रोज की बात बन गई है ऊपर से पुलिस का रवैया ऐसा कि लोग पुलिस तक जाना भी नहीं चाहते।

शुक्रवार दोपहर पूर्वी दिल्ली के मंडावली थाने के सामने रेड लाइट पर ही मोटरसाइकिल पर अपने पति के साथ जा रही ललिता नाम की एक महिला के गले से मोटरसाइकिल सवार दो लड़कों ने चेन छीन ली। इससे पहले कि ललिता अपने पति को कुछ बता पाती और वह खुद संभल पाती यह मोटरसाइकिल उसके आंखों से ओझल हो गई। सामने ही थाना देखकर ललिता और उसके पति थाने में रिपोर्ट दर्ज करने जा पहुंची लेकिन पुलिस ने अपना हमेशा वाला रवैया अपनाते हुए उनकी एफआईआर दर्ज नहीं की। इसके बाद दोनों पति-पत्नि ने एक सादे कागज पर अपनी शिकायत लिखकर दी तो पुलिस ने काफी न-नुकुर के बाद इसे स्वीकार कर लिया।

इससे पहले गुरुवार को ही उत्तर पूर्व जिला पुलिस आपरेशन सेल के अधिकारियों ने अलग अलग स्थानों से आटो लिफ्टर व झपटमार गैंग के दो गिरोहों का पर्दाफाश किया है। आठ लुटेरे गिरफ्तार कर छह मोटरसाइकिल तथा 41 हजार रुपये बरामद किए गए हैं।

गिरफ्तार अभियुक्तों के नाम दीपक, युसुफ, मौहम्मद ताहिर, सोनू तथा दिनेश हैं दूसरे गैंग के सदस्य राजेश, राकेश तथा श्रवण हैं। सोनू दिल्ली विश्वविद्यालय में पत्राचार से ग्रेजुऐशन कर रहा है। आपरेशन सेल ने एक सूचना के आधार पर अम्बेडकर कालेज कब्रिस्तान से दबोच लिया गया जबकि राजेश व उसके साथियों को लोनी रोड बलवीर नगर से गिरफ्तार किया गया। गिरोह मोटरसाइकिल चोरी करने के बाद अस्पताल या किसी सुनसान पार्क में खड़ी कर देता था। उसके बाद मौका मिलने पर वहां से मोटरसाइकिल ले जाकर यूपी में बेचते थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोती रही पुलिस, थाने के सामने चेन स्नैचिंग