DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजनीतिक दबाव में नहीं छोड़े जा सकते आरोपी: कोर्ट

उड़ीसा में स्थानीय राजनीतिज्ञ के दवाब में हत्या के आरोपी 12 लोगों को छोड़े जाने पर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को आड़े हाथों लेते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि विधायकों जैसे प्रभावशाली लोगों के दवाब में आकर पुलिस किसी आरोपी को नहीं छोड़ सकती है।

उपरोक्त मामले में पुलिस ने प्रारंभ में उड़ीसा के जाजपुर जिले में 28 मई 2007 को भैराथी दास की हत्या के मामले में कथित तौर पर केदार नारायण परीडा तथा 18 अन्य को आरोपी बनाया था। हालांकि स्थानीय विधायक परमेश्वर सेठी के हस्तक्षेप के बाद राज्य के पुलिस महानिदेशक तथा मध्य क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक ने 12 लोगों का नाम मामले से हटा दिया।

सुप्रीम कोर्ट ने जोर देकर कहा कि जब अधिकारियों का आचरण दुर्भावनापूर्ण हो तब न्याय सुनिश्चित करने के लिए अदालतें हस्तक्षेप कर सकती हैं। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मामले में ऐसा निर्देश परमेश्वर सेठी के हस्तक्षेप के बाद दिया गया जब स्थानीय विधायक ने कहा कि जब यह घटना हुई उस समय दो आरोपी ज्योति परीडा़ और शक्ति परीडा़ उसके घर पर मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राजनीतिक दबाव में नहीं छोड़े जा सकते आरोपी: कोर्ट