DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परमाणु क्षेत्र में भी हाथ आजमाएगा एचइसी

एचइसी अब परंपरागत क्षेत्र से हट कर नये क्षेत्र में काम करने का प्रयास कर रहा है। ऊर्जा, रेलवे के बाद अब परमाणु क्षेत्र में विस्तार की उसकी योजना है। परमाणु क्षेत्र में एचइसी ज्वाइंट वेंचर करेगा। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है। विदेशी कंपनियों के साथ बातचीत भी जारी है।

ज्वाइंट वेंचर के लिए फिलहाल तीन कंपिनयों से बात चल रही है। इसमें जेनरल इलेक्ट्रिक, एल्सटन एवं अरेवा नामक कंपनी प्रमुख है। इन कंपनियों के साथ एचइसी की एक - दो दौर की बात हो चुकी है। एचइसी ने 500-1000 मेगावाट वाले न्यूक्लियर पावर प्लांट के रिएक्टर के उपकरणों का निर्माण किया है।

शीघ्र ही इससे अधिक क्षमता वाले उपकरणों का वह निर्माण करेगा। इसके लिए उसे परमाणु ऊर्जा आयोग एवं न्यूक्लियर कारपोरेशन ऑफ इंडिया से भी सहयोग मिलेगा। दोनों संस्थानों ने इस संबंध में एचइसी को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परमाणु क्षेत्र में भी हाथ आजमाएगा एचइसी