DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सलियों पर जवाबी गोलीबारी की हो इजाजतः वायुसेना

नक्सलियों पर जवाबी गोलीबारी की हो इजाजतः वायुसेना

माओवादियों के खिलाफ सरकार की लड़ाई में ज्यादा बड़ी भूमिका निभाने का संकल्प व्यक्त करते हुए भारतीय वायुसेना ने कहा कि उसने अपने बेड़े के किसी हेलीकॉप्टर या कर्मचारी पर हमला किये जाने की स्थिति में वामपंथी उग्रवादियों पर गोलीबारी करने के लिये रक्षा मंत्रलय से इजाजत मांगी है।

एयर चीफ मार्शल पीवी नाइक ने संवाददाताओं से कहा आईएएफ ने माओवादियों से प्रभावित क्षेत्रों में काम कर रहे अपने हेलीकॉप्टरों या वायुसेना कर्मियों पर हमला होने पर अपने बचाव में गोलीबारी करने के लिये रक्षा मंत्रलय से अनुमति मांगी है।

वायुसेना की संपत्तियों और उसके कर्मचारियों पर नक्सली हमलों को गंभीर चिंता का विषय बताते हुए नाइक ने कहा बेशक, वायुसेना को नक्सलवादियों के खिलाफ मुहिम में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करनी है। चाहे वह निगरानी करना अथवा टोह लेना हो या फिर सैनिकों को लाना ले जाना हो।

माओवादियों का पता लगाने के लिये वायुसेना के इस्तेमाल के बारे में उन्होंने कहा कि यह एक तरकीब भरा फैसला होगा, क्योंकि ऐसे अभियानों के दौरान निर्दोष लोगों के मारे जाने की प्रबल आशंका होती है।

अफगानिस्तान और पाकिस्तान में तालिबान के खिलाफ अमेरिकी ड्रोन हमलों का जिक्र करते हुए नाइक ने कहा इस बात का भी ध्यान रखना चाहिये कि वे हमले अमेरिका से बाहर हो रहे हैं। साथ ही पाकिस्तान ने आतंकवादी संगठनों पर हमले के लिये अपने बलों का इस्तेमाल सिर्फ स्वात में ही किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सलियों पर जवाबी गोलीबारी की हो इजाजतः वायुसेना