DA Image
25 फरवरी, 2020|5:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएसएनएल के टॉवरों से होगी एयरसेल की 'और बोलो'

बीएसएनएल के टॉवरों से होगी एयरसेल की 'और बोलो'

दूरसंचार कंपनी एयरसेल ने सार्वजनिक क्षेत्र की भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के साथ दस साल का टॉवर भागीदारी करार किया है। फिलहाल एयरसेल के 32,000 बेस स्टेशन हैं। इस करार के बाद कंपनी की सभी सर्किलों में बीएसएनएल के 45,000 टावरों तक पहुंच हो जाएगी।

हालांकि, कंपनी ने करार के मूल्य का खुलासा नहीं किया है। एयरसेल मलयेशिया की मैक्सिस कम्युनिकेशंस की इकाई है और इसके ग्राहकों की संख्या 2.4 करोड़ हैं। फिलहाल 18 दूरसंचार सर्किलों में कंपनी की मौजूदगी है। कंपनी के पास अखिल भारतीय स्तर पर सेवा देने का लाइसेंस है।

एयरसेल के मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) गुरदीप सिंह ने एक बयान में कहा कि एयरसेल की अब बीएसएनएल के 21 सर्किलों (मुंबई, दिल्ली छोड़कर) में रणनीतिक रूप से स्थापित साइटों तक पहुंच हो जाएगी। सिंह ने कहा कि बीएसएनएल के टॉवरों के इस्तेमाल से एयरसेल अपनी नेटवर्क पेश करने की आक्रामक योजना को पूरा कर पाएगी। साथ ही इससे हमारी परिचालन लागत भी घटेगी।

बीएसएनएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक कुलदीप गोयल ने कहा कि बीएसएनएल की राष्ट्रीय स्तर पर मजबूत मौजूदगी है। हमारा उद्देश्य गुणवत्ता और भरोसे वाली सेवा मुहैया कराना है, जिससे हमारे सहयोगी का भरोसा बढ़ सके।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:बीएसएनएल के टॉवरों से होगी एयरसेल की 'और बोलो'