अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो सौ तक न समेट पाने का अफसोस : ईशांत

ईशांत शर्मा की चार विकेट झटकने की पारी की बदौलत बुधवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट के पहले दिन भारत को सम्मानजनक स्थिति में ला खड़ा किया, लेकिन इस तेज गेंदबाज को इस बात का बेहद अफसोस है कि उनकी टीम मेजबान खिलाड़ियों को 200 रनों के भीतर नहीं रोक सकी। गौरतलब है कि ईशांत और जहीर खान ने न्यूजीलैंड की शीर्ष क्रम की बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी, लेकिन कप्तान डेनियल विटोरी (118) और जेसी राइडर (102) ने सातवें विकेट के लिए 186 रनों की पारी खेलकर टीम को उबारा। पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद इशांत ने पत्रकारों से कहा कि हम उन्हें 200 रनों के भीतर आउट करना चाहते थे, और सुबह में विकेट तेज गेंदबाजों के अनुकूल थी। लेकिन दूसरे सत्र में विकेट सपाट हो गई। अपने 1आेवरों की पारी में 73 रन देकर चार विकेट झटकने वाले ईशांत ने स्वीकार किया कि सुबह के सत्र में इस विकेट पर बल्लेबाजी करना थोड़ा कठिन था और तेज गेंदबाजों को पिच का खूब फायदा मिल रहा था। उन्होंने कहा कि हवा के विपरीत गेंद फेंकने में कठिनाई हो रही थी, लेकिन ऐसी परिस्थितियों में भी मैंने काफी अच्छा प्रदर्शन किया। ईशांत ने आगे कहा कि दूसरे सत्र में विकेट कुछ आसान हो गया, जिसकी वजह से न्यूजीलैंड की टीम खराब स्थिति से उबरने में कामयाब हो सकी। उन्होंने कहा कि हमने अपनी योजना के मुताबिक सही क्षेत्रों में गेंदबाजी की। लेकिन जब विकेट सपाट हो गया और पुरानी गेंद कुछ यादा कमाल नहीं दिखा रही थी उस वक्त हमारे लिए परेशानी हो गई। फिर भी हमें स्वीकार करना चाहिए कि विटोरी और राइडर ने बेहतरीन बल्लेबाजी की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दो सौ तक न समेट पाने का अफसोस : ईशांत