मुंबई हमले से जुड़े सबूतों के प्रसारण पर रोक - मुंबई आतंकी हमले से जुड़े सबूतों के प्रसारण पर रोक DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुंबई आतंकी हमले से जुड़े सबूतों के प्रसारण पर रोक

मुंबई पर 26 नवंबर को हुए आतंकी हमलों से जुड़े सबूतों के प्रसारण और प्रकाशन पर विशेष अदालत ने बुधवार को अगले आदेश तक रोक लगी दी है। यह आदेश मुंबई क्राइम ब्रांच के अनुरोध पर विशेष सरकारी वकील उज्जवल निकम की अर्जी पर जारी किया गया है। निकम के मुताबिक आतंकी हमले पर अदालती कार्रवाई शुरू होने से पहले सबूतों के आडियो-वीडियो के प्रसारण होने और आतंकवादी अजमल आमिर कसाब के बार में समाचार लिखे जाने से सबूतों पर असर पड़ सकता है। इसलिए अदालत से इस पर रोक लगाने का अनुरोध किया गया। अदालत के इस आदेश से आतंकी हमले मामले में लश्कर तोएबा से जुड़े दो सदस्य फहीम अंसारी और सबाउद्दीन के बार में भी कुछ दिखाने और छापने पर रोक लग गई है। लश्कर तोएबा और पाकिस्तानी मूल के 10 आतंकवादियों ने मुंबई पर हमले करके कई विदेशियों सहित दर्जनों लोगों को मार डाला था। लेकिन मुंबई पुलिस ने कसाब नामक एक आतंकवादी को जिंदा पकड़ने में सफलता पाई है। अब इस हमले की अदालती सुनवाई 23 मार्च से शुरू होने की संभावना है। इससे पहले खबरिया चैनलों पर आतंकियों के हमले से संबंधित सीसीटीवी के फूटेा प्रसारित किए जा रहे हैं और अखबारों में भी कसाब के बार में तरह-तरह की खबरं छापी जा रही हैं। अर्जी में स्पष्ट लिखा गया है कि जांच अधिकारियों ने मेहनत करके सबूत जमा किए हैं लेकिन सबूत लीक हो रहे हैं और उसका प्रसारण भी किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मुंबई हमले से जुड़े सबूतों के प्रसारण पर रोक