अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सदस्यता रद्द करने के लिए याचिका

ेंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, निवर्तमान सांसद जॉर्ज फर्नाडिस, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी तथा मंत्री शाहिद अली खां की सदस्यता रद्द करने के लिए पटना हाईकोर्ट में एक रिट याचिका दायर की गई है। याचिका में कहा गया है कि पासवान व फर्नाडिस क्रमश: हाजीपुर और मुजफ्फरपुर के मतदाता नहीं है, इसलिए लोकसभा का चुनाव लड़ना गलत था। चूंकि ये दोनों नेता गलत तरीके से चुनाव जीतकर लोकसभा में पहुंचे थे इसलिए दोनों से जुर्माना भी वसूल किया जाना चाहिए। इसी तरह की बात राबड़ी देवी और शाहिद अली खां के बार में भी कही गई है। याचिका में कहा गया है कि राबड़ी देवी पटना में वोटर हैं, जबकि चुनाव राघोपुर से लड़ती हैं।ड्ढr ड्ढr शाहिद अली खां पुपरी के मतदाता हैं और चुनाव सीतामढ़ी विधानसभा क्षेत्र से लड़े। ये दोनों नेता भी गलत तरीके से चुनाव जीतकर बिहार विधानसभा पहुंचे हैं, इसलिए इनकी भी सदस्यता समाप्त की जानी चाहिए तथा जुर्माना भी वसूल किया जाना चाहिए। याचिका में चारों नेताओं के अलावा चुनाव आयोग, लोकसभा तथा बिहार विधानसभा को प्रतिवादी बनाया गया है। याचिका सीतामढ़ी जिले के डुमरा के रहने वाले बिन्देश्वर साह ने दायर की है।ड्ढr ड्ढr गोपालगंज के डीएसई के निलम्बन पर रोक : हाईकोर्ट ने गोपालगंज के डीएसई के निलंबन पर रोक लगाते हुए मंत्री रामप्रवेश राय को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। साथ ही गोपालगंज के एसपी को तीन सप्ताह में हलफनामा दायर करने का आदेश दिया है। गुरुवार को न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा की एकलपीठ ने डीएसई राकेश कुमार चौधरी की रिट याचिका पर सुनवाई की। श्री चौधरी के वकील विपिन बिहारी सिंह ने अदालत को बताया कि मंत्री श्री राम के निर्देश पर श्री चौधरी को निलंबित किया गया है। उनका कहना था कि मंत्री ने डीएसई के साथ गाली-गलौज की तथा जान मारने की धमकी भी दी। इस मामले में एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है, लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। उनका कहना था कि दरौली के सुरन्द्र कुमार मिश्रा को स्थानांतरित करने के लिए मंत्री ने पत्र जारी किया था। मंत्री ने आवेदक को मीटिंग में नहीं आने का आरोप लगाते हुए मानव संसाधन विकास मंत्री को पत्र लिखा। जिस पर चौधरी को निलंबित करने का आदेश जारी किया गया। कोर्ट ने इसे गंभीरता से लेते हुए राय को नोटिस जारी किया। वही एसपी को हलफनामा दायर कर प्राथमिकी के संदर्भ में की गई कार्रवाई का ब्यौरा देने का आदेश दिया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सदस्यता रद्द करने के लिए याचिका