DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काबुल मंे मुठभेड़ में 30 आतंकवादी ढ़ेर

अफगानिस्तान और अमेरिकी सेनाआें के संयुक्त हमलों में पश्चिम-दक्षिण अफगानिस्तान में 30 आतंकवादी मारे गए हैं। अमेरिकी और नाटो सेनाआें द्वारा वर्ष 2001 के अंत में तालिबान सरकार गिराने के बाद अफगानिस्तान में हिंसा में काफी तेजी आई है। काबुल के पश्चिमी और पूर्वी इलाकों तथा बाहरी क्षेत्र में जारी हमलों ने वाशिंगटन को इनसे निपटने के लिए नई रणनीति अख्तियार करने पर मजबूर कर दिया है। अमेरिकी सेना ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा कि काबुल के गिरेशक जिले में अमेरिकी जवानों की सलाह के मुताबिक गुरुवार को अफगान नेशनल आर्मी (एएनए) के नेतृत्व में अभियान चलाया गया। उसी दौरान आतंकवादियों की सही पहचान करने के बाद उन पर गोलीबारी की गई। उन्होंने भी जवाबी कार्रवाई की जिसमें 30 आतंकवादी मारे गए। बयान में कहा गया है कि आतंकवादियों को मारने के लिए छोटे हथियारों को इस्तेमाल किया गया। इस घटना में एक एएनए का जवान जख्मी हो गया। ज्ञातव्य है कि अफगानिस्तान में नाटो के नेतृत्व में जूझ रही सेना को और अधिक मजबूत करने के लिए संयुक्त राष्ट्र ने इस साल 17 हजार अतिरिक्त सैनिक भेजने की निर्णय लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: काबुल मंे मुठभेड़ में 30 आतंकवादी ढ़ेर