DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विस उप चुनावों में बजा भाजपा का डंका

विस उप चुनावों में बजा भाजपा का डंका

लोकसभा चुनावों में करारी शिकस्त के बाद भारतीय जनता पार्टी ने उप चुनावों में शानदार प्रदर्शन करते हुए गुजरात की सात में से पांच सीटों पर जीत हासिल की है। पार्टी को उत्तराखंड और मध्य प्रदेश में एक-एक सीट हासिल हुई है।

गुजरात में सत्तारूढ़ भाजपा ने प्रदेश की जसदान, चोटिला, देहगाम, दंता और सामी हारिज सीटें कांग्रेस से छीन ली हैं जबकि कोदिनार सीट मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के खाते में चली गई है। कांग्रेस ने इसके अलावा धोराजी सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है।

इस महीने की दस तारीख को गुजरात में सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव कराया गया था। इनमें से छह सीटों पर कांग्रेस का कब्जा था जबकि एक सीट भाजपा के पास थी। आज की जीत के साथ ही प्रदेश विधानसभा में सत्तारूढ़ भाजपा सदस्यों की संख्या बढ़ कर 122 हो गई है जबकि कांग्रेस के 54 सदस्य हैं। 182 सदस्यीय सदन में छह सीट अन्य के खाते में है।

लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन तथा जूनागढ़ नगर निगम के चुनावों में कांग्रेस की जीत के बाद वर्तमान चुनाव परिणाम प्रदेश के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए सुखद और राहत वाले हैं। लोकसभा चुनाव में प्रदेश की 26 सीटों में से भाजपा को 15 पर जीत हासिल हुई थी जबकि बाकी सीटों पर कांग्रेस ने विजय हासिल की।

इस उप चुनाव को मोदी की लोकप्रियता की जांच माना जा रहा था। चुनाव प्रचार में मुख्यमंत्री ने हिस्सा नहीं लेने का निर्णय किया था। पार्टी पदाधिकारी और कार्यकर्ता इस जीत की खुशियां पूरे प्रदेश में मना रहे हैं।

पार्टी ने उत्तराखंड में विकासनगर विधानसभा सीट जीत कर अपने बल बूते सदन में बहुमत हासिल कर लिया है। इस जीत से सत्तर सदस्यीय सदन में भाजपा के सदस्यों की संख्या बढ़ कर 36 हो गई है। मध्य प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा ने तेंदुखेड़ा सीट कांग्रेस से हथिया ली है हालांकि प्रदेश के मुख्य विपक्षी ने गोहाद सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है।

आंध्र प्रदेश और सिक्किम में सत्तारूढ़ दल क्रमश: कांग्रेस और सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट ने तेक्काली और नामची सिंघिथांग सीट जीत ली है। उपचुनाव में भाजपा की जबरदस्त जीत के बाद पार्टी प्रमुख राजनाथ सिंह ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए कहा है कि परिणाम से पता चलता है कि कांग्रेस न केवल गुजरात में बल्कि उत्तराखंड और मध्य प्रदेश में भी अपना जनाधार खो रही है।

भाजपा की आज की जीत के साथ मध्य प्रदेश के 230 सदस्यीय सदन में पार्टी की संख्या बढ़ कर 144 हो गई है। विधानसभा में कांग्रेस के 69, बसपा के सात, बीजेएसपी के पांच सदस्य हैं जबकि चार सीट अन्य को मिली है। एक सीट रिक्त है।

उत्तराखंड की विकास नगर विधानसभा सीट पर भाजपा के कुलदीप कुमार ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी तथा कांग्रेस उम्मीदवार नव प्रभात को 596 मतों से पराजित किया। इस चुनाव में कुमार को 24 हजार 934 मत मिले जबकि प्रभात को 24 हजार 338 मत मिले। लोकसभा चुनाव में सभी पांच सीटों पर मिली करारी शिकस्त के बाद पार्टी के लिए यह जीत मायने रखती है। लोकसभा में हार के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री बी सी खंडूरी को अपना पद छोड़ना पड़ा था।

सिक्किम में सत्तारूढ़ एसडीएफ के नामची सिंघिथांग सीट जीत जाने के बाद 32 सदस्यीय सदन में सभी 32 सदस्य एसडीएफ के हो गए हैं।

आंध्र प्रदेश में हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने तेक्काली विधानसभा सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। पार्टी विधायक के रेवतीपति के निधन के कारण यह सीट खाली हुई थी। कांग्रेस ने इस सीट से दिवंगत विधायक की पत्नी के भारती को मैदान में उतारा था। भारती ने अपनी निकटतम प्रतिद्वंद्वी तथा तेदेपा के अत्चाया नायडू को तकरीबन सात हजार मतों से हराया। इस चुनाव में नायडू को 52 हजार से अधिक मत प्राप्त हुए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विस उप चुनावों में बजा भाजपा का डंका