DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक करे मुंबई के गुनाहगारों को बेनकाबः भारत

पाक करे मुंबई के गुनाहगारों को बेनकाबः भारत

भारत ने मुंबई हमलों की साजिश बेनकाब करने की जिम्मेदारी गुरुवार को पाकिस्तान पर डालते हुए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ ठोस कार्रवाई होने तक पड़ोसी देश के साथ सार्थक बातचीत की संभावना से इंकार कर दिया।

यह दृढ़ संदेश विदेश मंत्री एस एम कृष्णा ने इस माह के अंत में न्यूयार्क में संरा महासभा से इतर उनके पाकिस्तानी समक्ष शाह महमूद कुरैशी के साथ होने वाली बैठक से पहले दिया है। दोनों मंत्रियों की मुलाकात से एक दिन पहले दोनों देशों के विदेश सचिव निरूपमा राव और सलमान बशीर की बैठक होगी जिसमें 26/11 हमलों की जांच की प्रगति तथा इस सिलसिले में गिरफ्तार व्यक्तियों के खिलाफ अभियोजन की समीक्षा की जाएगी।

कृष्णा ने एडीटर्स गिल्ड को संबोधित करते हुए कहा कि पाकिस्तान के साथ संबंध सामान्य करना हमारे लिए महत्वपूर्ण है। बहरहाल, हम ऐसी स्थिति में हैं जहां पाकिस्तान को यह तय करना है कि वह भारत के साथ कैसे संबंध चाहता है।

मुंबई हमलों के बारे में चर्चा करते हुए कृष्णा ने कहा कि यह पाकिस्तान से शुरू किया गया था तथा साजिश भी वहीं रची गई। उन्होंने कहा कि भारत ने महत्वपूर्ण सबूत मुहैया कराके पाकिस्तान की मदद करने का प्रयास किया है।

कृष्णा ने पाकिस्तान के इस दावे को वस्तुत: खारिज कर दिया कि समग्र वार्ता बहाल की जानी चाहिए क्योंकि यह मुद्दों का हल निकालने का एकमात्र विवेकपूर्ण तरीका है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के साथ कोई सार्थक वार्ता तभी की जा सकती है जब वह अपनी प्रतिबद्धता को पूरी तरह अंजाम दे। पाकिस्तान ने प्रतिबद्धता जताई थी कि वह आतंकवादियों को भारत के खिलाफ अपनी भूमि का इस्तेमाल किसी भी गतिविधि के लिए करने की इजाजत नहीं देगा।

कृष्णा ने कहा कि मुंबई हमलों के पहले तक भारत पूरी ईमानदारी के साथ समग्र वार्ता कर रहा था, लेकिन आतंकवाद और बातचीत को एक साथ जारी नहीं रखा जा सकता। पाकिस्तान को अपने आश्वासन लागू कर अपनी विश्वसनीयता साबित करनी चाहिए। भारत इस बात पर बरकरार है कि यदि पाकिस्तान वार्ता प्रक्रिया बहाल करने के लिए गंभीर है तो उसे मुंबई हमलों की साजिश रचने वाले लोगों के खिलाफ ठोस कार्रवाई करनी होगी।

विदेश मंत्री से यह पूछा गया था कि मिस्र के शर्म अल शेख में जब इस बात की सहमति बन चुकी है कि दोनों देशों के विदेश सचिवों की बैठक होगी तो अभी ऐसा क्यों नहीं हो पाया। इस पर कृष्णा ने कहा कि विदेश सचिव न्यूयार्क में मिलेंगे। इसके बाद विदेश मंत्रियों की बैठक होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक करे मुंबई के गुनाहगारों को बेनकाबः भारत