DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा-बीजद तकरार से चुनावी तस्वीर बदली

उड़ीसा में पिछले तीन लोकसभा चुनावों में एक साथ मैदान में उतरे भारतीय जनता पार्टी और बीजू जनता दल इस बार एक दूसरे को विश्वासघाती की संग्या देकर अलग-अलग चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं जो कांग्रेस के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। अभी विधानसभा और लोकसभा चुनावों में एक महीने का समय बाकी है और भाजपा तथा बीजद ने आपसी रिश्तों टूटने के लिए एक दूसरे पर आरोप लगाने शुरु कर दिए है। राय के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने चुनाव अभियान के दौरान इसे बाकायदा एक मुद्दा बना लिया है कि भाजपा ने उनके साथ ग्यारह साल पुराना नाता तोडने में महज ग्यारह मिनट का वक्त लगाया। उधर भाजपा ने भी एक विशाल सभा को संबोधित करते हुए दोनांे दलों में दरार के लिए मुख्यमंत्री को विश्वासघाती की संज्ञ दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाजपा-बीजद तकरार से चुनावी तस्वीर बदली