लालू-मुलायम साथ, कांग्रेस अकेले - लालू-मुलायम साथ, कांग्रेस अकेले DA Image
9 दिसंबर, 2019|3:50|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालू-मुलायम साथ, कांग्रेस अकेले

ांग्रेस ने कहा, भीख नहीं चाहिए बिहार में 37 प्रत्याशी उतारगीड्ढr कांग्रेस ने बिहार में 40 में से 37 लोकसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारने की घोषणा कर दी है। एक और सीट देने की लालू की पेशकश पर कांग्रेस के मीडिया प्रमुख वीरप्पा मोइली ने कहा, हमारी पार्टी देश पर शासन करती है। हमें किसी की भीख की जरूरत नहीं है। लालू इन सीटों को अपने पास रखें। हम बिहार में अकेले चुनाव लड़ेंगे। दूसरी ओर, राजद के बागी नेता साधू यादव ने कहा है कि कांग्रेस उन्हें बेतिया से टिकट दे सकती है। शनिवार को कांग्रेसी नेता सुशील कुमार शिंदे ने बताया कि कांग्रेस ने राजद और लोजपा के लिए केवल तीन सीटें छोड़ी हैं। इनमें एक-एक सीट पर लालू और रामविलास पासवान चुनाव लड़ रहे हैं। 37 सीटों पर प्रत्याशियों की अंतिम सूची केंद्रीय चुनाव समिति के पास भेजी गयी है। (एजेंसियाँ) लालू बोले, मुलायम के लिए चुनाव प्रचार करंगेड्ढr नई दिल्ली। कांग्रेस की घोषणा से बौखलाए राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने कहा, नतीजे आने के बाद सोनिया गांधी को राजद का महत्व पता चलेगा। लालू ने बिहार में कांग्रेस के लिए छोड़ी गई तीन सीटों पर प्रत्याशी की घोषणा करने की बात कह कर संप्रग की दोस्ती पर आखिरी कील भी ठोक दी।ड्ढr उन्होंने मुलायम की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाते हुए कहा कि वे उनके लिए प्रचार करंगे। उन्होंने साफ किया कि हम कांग्रेस को हारने के लिए सीटें नहीं दे सकते हैं। कांग्रेस के बिहार में 37 सीटों पर चुनाव लड़ने के फैसले पर लालू ने कहा कि वे तीन सीटें भी क्यों छोड़ रहे? कांग्रेस को 40 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहिए। हालाँकि उन्होंने यह भी कहा कि मै चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस की आलोचना नहीं करूँगा। (एजेंसियाँ) लालू साथ देंगे तो हमड्ढr भी तैयार: सपाड्ढr विशेष संवाददाता लखनऊ। समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश में सीटों का तालमेल न होने के लिए सीधे तौर पर कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। साथ ही यह भी कहा है, अगर लालू प्रसाद सपा का साथ देने को तैयार हैं तो सपा भी लालू का साथ देगी। सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव की अध्यक्षता में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की शनिवार को हुई बैठक के बाद प्रेस कांफ्रेंस में पार्टी महासचिव अमर सिंह ने कहा कि मुलायम सिंह का समर्थन करने की लालू प्रसाद की घोषणा का सपा स्वागत करती है। हम भी लालू के प्रत्याशियों के लिए प्रचार करंगे। सपा की बैठक आम राय थी कि सपा ने कांग्रेस की भरपूर मदद की लेकिन कांग्रेस की जिद की वजह से सीटों का तालमेल नहीं हो सका।ड्ढr हमने तो सम्मानजनक प्रस्ताव दिया था: अमर पेज-17

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लालू-मुलायम साथ, कांग्रेस अकेले