DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दानापुर रल मंडल के यात्रियों की परशानी शनिवार को बढ़ी रही। एक ओर राजधानी एक्सप्रेस की पेंट्रीकार में आग लगने से मुगलसराय-पटना रलखंड पर छह घंटे ट्रेनें नहीं चलीं, वहीं नक्सलियों द्वारा गुरारू परैया के बीच पटरी उड़ाने की घटना से गया-मुगलसराय लाइन पर भी परिचालन बाधित रहा।ड्ढr ड्ढr विभिन्न स्टेशनों पर घंटों ट्रेनों के फंसे रहने से यात्रियों का बुरा हाल रहा। संपूर्णक्रांति से दिल्ली जा रहे मनीष कुमार झा ने बताया कि पांच घंटे से जंक्शन पर हूं। दिल्ली से चंडीगढ़ की ट्रेन पकड़नी है। देर होने पर दिल्ली में ट्रेन छूटने की आशंका है। श्रमजीवी से पटना पहुंचे राजकिशोर ने बताया कि दिनभर भोजन नसीब नहीं हुआ। राजधानी छह घंटे, संपूर्णक्रांति नौ घंटे, श्रमजीवी सात घंटे, गरीबरथ आठ घंटे, संघमित्रा पांच घंटे, जनसाधारण सात घंटे, कुर्ला एक्सप्रेस सात घंटे, अकालतख्त छह घंटे, मगध एक्सप्रेस पांच घंटे, पूर्वा सात घंटे लेट से पटना पहुंची। वापसी में राजधानी एक घंटे, संपूर्णक्रांति साढे पांच घंटे व जनसाधारण छह घंटे लेट से पटना से खुलीं।ड्ढr ड्ढr ट्रेनों के लेट रहने से टर्मिनल व जक्शन के प्लेटफार्मो पर देर रात तक भीड़ लगी रही। उधर नक्सलियों के पटरी उड़ाने की घटना के बाद बरकाकाना-पटना पलामू, बुद्धपूर्णिमा व डेहरी इंटरसिटी को रद्द कर दिया गया। वहीं गया-मुगलसराय लाइन की गाड़ियां जसे, शिप्रा, चंबल, कालका, लुधियाना व भुनेश्वर राजधानी एक्सप्रेस को वाया पटना चलाया गया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: